Saturday, Aug 24 2019 | Time 21:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • देश भर में गरज के साथ पड़े छींटे
  • मोबाइल लूटकांड का उद्भेदन, दो गिरफ्तार
  • मालगाड़ी के 17 डिब्बे पटरी से उतरे
  • मध्यप्रदेश में फिर भारी बारिश की चेतावनी
  • खेल जगत ने जेटली के निधन पर जताया शोक
  • खेल जगत ने जेटली के निधन पर जताया शोक
  • जन्माष्टमी पर द्वारका और डाकोर में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़
  • आज साफ हो गया कि कश्मीर में हालात सामान्य नहीं हैं: राहुल
  • आदमपुर से तीन सगे भाई 22 अगस्त से लापता
  • अफगानिस्तान स्कूल ने छत्तीसगढ़ स्कूल को 8-1 से हराया
  • अफगानिस्तान स्कूल ने छत्तीसगढ़ स्कूल को 8-1 से हराया
  • जेटली के निधन पर उत्तराखंड में 25 अगस्त को राजकीय शोक
  • गुजरात के मुख्यमंत्री ने जेटली के निधन पर जतायाी शोक, अंतिम यात्रा में करेंगे शिरकत
  • जजपा प्रदेशाध्यक्ष बोले, टोहाना से ही लडूंगा विधानसभा चुनाव
  • पुड्डुचेरी में 150 रेहड़ी-पटरी वाले गिरफ्तार
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


आकाश विजयवर्गीय की जमानत याचिका खारिज, 11 जुलाई तक जेल में रखने के आदेश

इंदौर, 26 जून (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक पुत्र आकाश विजयवर्गीय को आज यहां नगर निगम कर्मचारियों के साथ सरेआम क्रिकेट के बल्ले से मारपीट के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया।
हंगामेदार घटनाक्रमों के बीच आकाश को अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे 11 जुलाई तक जेल में न्यायिक हिरासत में रखने के आदेश दिए। अदालत ने आकाश के जमानत आवेदन को भी खारिज कर दिया। इसके साथ ही पुलिस आरोपी आकाश को जिला जेल ले गयी। पुलिस ने अदालत परिसर और एमजी रोड थाना क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर दिया है।
आकाश विजयवर्गीय द्वारा दिन में अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर निगम के दो कर्मचारियों के साथ मारपीट का वीडियो वायरल होने के खासा विवाद हुआ। इंदौर नगर निगम के कर्मचारियों की हड़ताल पर जाने की धमकी के बाद पुलिस ने यहां एमजी रोड थाने में आकाश और दस अन्य लोगों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने समेत विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। इसके बाद सख्त सुरक्षा प्रबंधों के बीच आकाश को गिरफ्तार कर प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी गौरव गर्ग की अदालत में पेश किया गया।
अदालत ने आकाश को 11 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में जेल में रखने के आदेश दिए। अदालत ने इसके साथ ही आकाश के नियमित जमानत के आवेदन को भी खारिज कर दिया। आकाश के सैकड़ों समर्थक अदालत परिसर के आसपास रहे। पुलिस ने अदालत परिसर और आसपास के इलाकों में सुरक्षा के आवश्यक बंदोबस्त ऐहतियात के तौर पर किए।
इसके पहले यहां एक व्यक्ति के अतिखतरनाक घोषित किए गए जर्जर मकान को तोड़ने पहुंचे नगर निगम के अमले से स्थानीय भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय का विवाद हुआ। उन्होंने क्रिकेट के बल्ले से एक दाे कर्मचारियों पर हमला कर दिया। इस दौरान उनके समर्थक भी हंगामा करते हुए कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट करने लगे। पुलिस ने बमुश्किल उन्हें सुरक्षित निकाला। इसके बाद नगर निगम का अमला काम बंद कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगा।
इस मामले को लेकर राजधानी भोपाल में भी कांग्रेस नेताओं की तीखी प्रतिक्रिया आयी। बाद में इंदौर पुलिस ने आकाश और उनके साथियों के खिलाफ बलवा, तोड़फोड़ और सरकारी कार्य में बाधा डालने समेत विभिन्न धाराओं में एमजी रोड थाने में प्रकरण दर्ज कर लिया। आकाश को कुछ ही देर में गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया।
अदालत में अंदर पेशी के दौरान बाहर समर्थकों ने हंगामे का प्रयास किया, जिसे पुलिस ने अपने अंदाज में नियंत्रित कर लिया। इसके अलावा दिन में एमजी रोड थाना क्षेत्र में भी हंगामे के कारण कुछ घंटों के लिए यातायात प्रभावित रहा।
इंदौर नगर निगम भाजपा शासित है और यहां की महापौर मालिनी गौड़ भाजपा नेता हैं।
सं प्रशांत
वार्ता
More News
टंडन ने कीर्ति कलश कैलाश ग्रन्थ का किया लोकार्पण

टंडन ने कीर्ति कलश कैलाश ग्रन्थ का किया लोकार्पण

24 Aug 2019 | 9:06 PM

भोपाल, 24 अगस्त (वार्ता) मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने आज यहां राजभवन में पद्मश्री साहित्यकार कैलाश मड़वैया पर केन्द्रित ग्रंथ 'कीर्ति कलश कैलाश' का लोकार्पण किया।

see more..
image