Tuesday, Apr 20 2021 | Time 01:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एमसीआई रजिस्ट्रार रिश्वत लेते गिरफ्तार
  • उत्तराखंड में कोविड से लड़ने को समुचित व्यवस्थाएं: पांडे
  • तीरथ ने की कोविड स्थिति की वर्चुअल समीक्षा
  • देश में कोरोना सक्रिय मामले 20 लाख के पार
  • केरल में कोरोना सक्रिय मामले एक लाख के पार
  • कर्नाटक में कोरोना के 15000 से अधिक नये मामले, 146 की मौत
  • बंगाल में चार आईपीएस अधिकारियों के तबादले
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


सीधी बस दुर्घटना के बाद गोविंद सिंह राजपूत विपक्ष के निशाने पर

भोपाल, 16 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के सीधी जिले में यात्री बस दुर्घटना के बाद राज्य के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं और उनके इस्तीफे की मांग की गयी है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्यवय नरेंद्र सलूजा ने इस दुर्घटना पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि 32 सीटर बस में क्षमता से अधिक लोग कैसे सवार थे। उन्होंने कहा कि इस दुखद घटना को देखते हुए नैतिकता के आधार पर परिवहन मंत्री को स्वयं आगे आकर मंत्री पद से इस्तीफा देना चाहिए। उन्होंने इस घटना में मृतकों के प्रति प्रदेश कांग्रेस की ओर से शोक संवेदना व्यक्त की है तथा घटना में घायलों के शीघ्र स्वथ्य होने की कामना की।
श्री सलूजा ने बस दुर्घटना से घायल हुये व्यक्तियों को उचित इलाज और मुआवजा एवं दुर्घटना में जान गंवाने वाले मृतकों के परिजनों को राज्य सरकार द्वारा घोषित किये गये 5-5 लाख रूपये के मुआवजे को अपर्याप्त बताते हुए 25-25 लाख रूपये दिये जाने की राज्य सरकार से मांग करते हुए इस बस दुर्घटना की पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच किये जाने की भी राज्य सरकार से मांग की है।
कांग्रेस नेता ने कहा कि पीडित परिवार के व्यक्तियों को सरकार का पूरा संरक्षण मिलना चाहिए, आवश्यकता अनुसार सरकारी नौकरी भी दी जाना चाहिए। केवल और केवल कुछ छोटे कर्मचारियों की जवाबदेही मानते हुए। उनका निलंबन और उन पर कार्रवाई से इस तरह की घटनाओं में रोक नहीं लग पाएगी। अब केवल ड्रामा नहीं निर्णय लेने पड़ेंगे और वह भी सख्त होना चाहिए।
बघेल
वार्ता
image