Saturday, Jul 11 2020 | Time 19:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बोर्ड ने वैकल्पिक विषयों में किये हजारों फेल, फाइन न भरने वालों का रोका परिणाम
  • फिलिस्तीन में कोरोना के रिकॉर्ड 463 नए मामले
  • तमिलनाडु में काेरोना के रिकॉर्ड 3965 नये मामले, 69 और की मौत
  • फोटो कैप्शन: दूसरा सेट
  • तमिलनाडु में कोरोना मामले 1 34 लाख के पार, करीब 1900 की मौत
  • पश्चिम बंगाल, सिक्किम में तेज बारिश के आसार
  • हरियाणा शारीरिक शिक्षकों ने किया सांसद निवास का घेराव
  • जम्मू में मुबारक मंडी हेरिटेज कॉम्प्लेक्स की खोई चमक वापस लाने की योजना
  • अनिल ने तरुण की पत्नी को सौंपा 5 10 लाख का ड्राफ्ट
  • बलिया में 49 और कोरोना पॉजिटिव,संक्रमितों की संख्या 368 पहुंची
  • गुरुग्राम के खेल स्टेडियमों में लौटी रौनक
  • बिहार में अबतक 15 हजार से अधिक हुए संक्रमित
  • सोनभद्र में सिविल जज समेत नौ कोरोना पाॅजिटिव, संख्या 83 पहुंची
  • सर्बिया में प्रदर्शनकारियों ने की संसद में घूसने की कोशिश
  • टेस्ट क्रिकेट में धोनी की सफलता के पीछे जहीर का बड़ा हाथ : गंभीर
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


अमरिंदर करेंगे करतारपुर साहिब जाने वाले सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व

चंडीगढ़, 26 सितंबर (वार्ता)अंतरराष्ट्रीय सीमा पार पाकिस्तान स्थित ऐतिहासिक गुरुद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए करतारपुर गलियारे के खुलने वाले दिन नौ नवंबर को जाने वाले सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह करेंगे।
इस आशय का ऐलान मुख्यमंत्री ने ऐतिहासिक नगर डेरा बाबा नानक में गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व पर आयोजित होने वाले समागमों का जायजा लेने के लिए कल बुलाई गई बैठक में किया। एक सप्ताह में यह दूसरी समीक्षा बैठक थी। गुरूद्वारा साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले प्रतिनिधिमंडल में मुख्यमंत्री के साथ राज्य के सभी विधायक, सांसद , शिरोमणि कमेटी के सदस्य , संत समाज के प्रतिनिधि और सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि शामिल होंगे।
इस समीक्षा बैठक में घोषणा की गई कि डेरा बाबा नानक से गलियारे तक पुराने गुरुद्वारा साहिब को जाने वाले मार्ग का नाम कुलदीप सिंह वडाला के नाम पर रखा जाएगा। कैप्टन सिंह ने कहा कि मिलकर ऐतिहासिक और महान पर्व को मनाने का मौका जीवन में केवल एक बार ही आता है।
उन्होंने वित्त मंत्री मनप्रीत बादल को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये कि प्रकाश पर्व समागमों से संबंधित सभी परियोजनाओं के लिए आवश्यक फंड़ जारी किए जाएं। जरूरत पड़े तो किसी अन्य विभाग को आवंटित फंडों में कटौती कर ली जाए।
श्री बादल ने वित्तायुक्त (राजस्व )को कहा है कि इस ऐतिहासिक दिवस को मनाने के लिए डेरा बाबा नानक में बड़े स्तर के होने वाले समागमों के लिए गुरुवार तक बजट फ्रीज़ किया जाए। उन्होंने मुख्य सचिव को भी हिदायतें दी की इन ऐतिहासिक कस्बों सुल्तानपुर लोधी, डेरा बाबा नानक और बटाला में होने वाले समागमों की रूपरेखा को अंतिम रूप देकर पहली अक्टूबर से पहले हर हाल में सार्वजनिक कर दिया जाए।
शर्मा
वार्ता
image