Wednesday, Jul 24 2019 | Time 15:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वाहन उद्योग की मंदी से त्रस्त आटोमोटिव उपकरण उद्योग की जीएसटी घटाने की गुहार
  • इंटर महाविद्यालयों में मान्य संकायों में ही नामांकन की अनुमति : मंत्री
  • दुर्घटना करने पर चालक का होगा लाइसेंस रद्द
  • चेन्नई तिलहन के भाव
  • चेन्नई सर्राफा के शुरुआती भाव
  • गिरिराज ने कहा-राहुल इमरान के चीयरलीडर; बिहार की सियासत गर्म
  • वामपंथी उग्रवाद की घटनाओं में 43 प्रतिशत गिरावट
  • गैर वरीय प्रणय से पहले दौर में हारे श्रीकांत
  • गैर वरीय प्रणय से पहले दौर में हारे श्रीकांत
  • भार्गव की चुनौती पर बोले कमलनाथ, विपक्ष करा ले बहुमत परीक्षण
  • चीन में भूस्खलन में 12 लोगों की मौत, 40 लापता
  • एनआईए के अधिकार राज्यों के अधिकार में हस्तक्षेप, बनेगा राजनीतिक हथियार : विपक्ष
  • विधानसभा में किशनगढ़ में धर्मांतरण का मामला उठा
  • न्यूजीलैंड से नहीं होगा दुग्ध उत्पादों का आयात: गिरिराज
  • सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं में कमी: सरकार
राज्य


रामनगर के बीडीसी हत्याकांड की गुत्थी सुलझी

नैनीताल 04 सितम्बर (वार्ता) उत्तराखंड में नैनीताल जिले के रामनगर में हाल ही में हुई क्षेत्र पंचायत सदस्य वीरेन्द्र मनराल की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। पुलिस ने मंगलवार को हत्याकांड में शामिल तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि वीरेन्द्र मनराल की हत्या देवेन्द्र सिंह उर्फ बाऊ ने अपने दो अन्य साथियों गुरप्रीत सिंह एवं दर्शन सिंह के साथ मिलकर की थी। उन्होंने बताया कि बाऊ ने अपना अपराध कुबूल कर लिया है।
श्री खंडूरी ने बताया कि अभियुक्तों को बैलपड़ाव स्थित देवेन्द्र बाऊ के घर से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को जानकारी मिली कि आरोपी देवेन्द्र बाऊ पैसे एवं अन्य जरूरी दस्तावेज लेने अपने घर पर आने वाला है। आरोपी के घर पहुंचते ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस पूछताछ में आरोपी देवेन्द्र बाऊ ने बताया कि वीरेन्द्र मनराल ने 2016 में हेमंत फत्र्याल की हत्या करने के बदले में उसे फिरौती की रकम देने को कहा था लेकिन बाद में वह मुकर गया। उसकी जमानत के लिये उसके घरवालों को संपत्ति तक बेचनी पड़ी।
आरोपी ने बताया कि एक सितम्बर को उसे पता चला कि वीरेन्द्र हेमंत फत्र्याल हत्या मामले में रामनगर अदालत में आ रहा है। इसलिये वह भी अपने साथियों के साथ अदालत के बाहर सुरक्षित स्थान पर छिप गया। इसके बाद जैसे ही वीरेन्द्र अदालत से बाहर आया उसे गोली मार दी।
उल्लेखनीय है कि बीडीसी सदस्य की एक सितम्बर को रामनगर में अदालत के बाहर हत्या कर दी गयी थी। तभी से इस हत्याकांड का खुलासा करने के लिये पुुलिस ने कई टीमें गठित की गयी थीं। हत्यारे वीरेन्द्र को गोली मारने के बाद कार्बेट पार्क की ओर भाग गये थे। इसके बाद वह कई जगह अपने ठिकाने बदलते रहे।
रवीन्द्र, उप्रेती
वार्ता
More News
गिरिराज ने कहा-राहुल इमरान के चीयरलीडर; बिहार की सियासत गर्म

गिरिराज ने कहा-राहुल इमरान के चीयरलीडर; बिहार की सियासत गर्म

24 Jul 2019 | 3:26 PM

पटना 24 जुलाई (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कश्मीर मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ट्वीट पर पलटवार करते हुए उन्हें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का ‘चीयरलीडर’ बताया जिससे बिहार की सियासत गर्म हो गई है।

see more..
भार्गव की चुनौती पर बोले कमलनाथ, विपक्ष करा ले बहुमत परीक्षण

भार्गव की चुनौती पर बोले कमलनाथ, विपक्ष करा ले बहुमत परीक्षण

24 Jul 2019 | 3:25 PM

भोपाल, 24 जुलाई (वार्ता) कर्नाटक सरकार गिरने के बाद मध्यप्रदेश विधानसभा में आज नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव की ओर से सरकार को चुनौती पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि उनके विधायक बिकाऊ नहीं हैं और विपक्ष चाहे तो सदन में सरकार के बहुमत का परीक्षण करा ले।

see more..
image