Wednesday, Apr 24 2019 | Time 10:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर बुधवार को नहीं चलेंगे निजी वाहन
  • श्रीलंका हमला: 18 और संदिग्ध गिरफ्तार
  • चीन में रसायन संयंत्र में विस्फोट, तीन लोगों की मौत
  • ‘आतंकवाद के खिलाफ न्यूजीलैंड-फ्रांस मिलकर करेंगे काम’
  • कश्मीर में एक दिन स्थगित रहने के बाद ट्रेन सेवा शुरू
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 25 अप्रैल)
  • ट्रंप ने ट्वीटर के सीईओ से मुलाकात की
  • रुस के खसान शहर में किम के आगमन पर सुरक्षा व्यवस्ता दुरुस्त
  • उत्तर कोरिया के नेता किम पुतिन से बातचीत करने निजी ट्रेन से रवाना हुए
  • श्रीलंका हमले में 45 बच्चों की जान गई :यूनीसेफ
  • सउदी ने आतंकवाद फैलाने के आरोप में 37 नागरिकों को दी फांसी
  • अबू धाबी के क्राउन प्रिंस ने दक्षिण सूडान के राष्ट्रपति से की मुलाकात
  • रक्षा बलों के प्रमुखों को बदल सकते हैं श्रीलंका के राष्ट्रपति
  • मोरक्को पुलिस ने आईएस से जुड़े संदिग्ध को हिरासत में लिया
राज्य


काले झंडे दिखाना जनता का अधिकार है- गहलोत

बीकानेर 08 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कल गंगानगर जिले में किसानों पर लाठीचार्ज की निंदा करते हुए कहा कि लोकतंत्र में विरोध प्रकट करने के लिये काले झंडे दिखाना आमजनता का अधिकार है।
श्री गहलोत ने आज जिले के कोलायत तहसील के बज्जू में किसान सम्मेलन में सम्बोधित करते हुए कहा कि वहां के किसान पानी की मांग को लेकर आंदोलनरत हैं। वे मुख्यमंत्री से मिलकर काले झंडे दिखाकर विरोध जताना चाहते थे। इसमें कुछ गलत नहीं है, लेकिन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने उन पर लाठीचार्ज करवाकर उन्हें वहां से भगा दिया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में यह उचित नहीं है, यह उन्हें समझना पड़ेगा। कांग्रेस के शासनकाल में उन्हें कई बार ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ा लेकिन कांग्रेस ने बल का प्रयोग नहीं किया, क्योंकि कांग्रेस में सहनशक्ति है। जबकि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे विरोध पसंद नहीं करती। उन्हें तो काले रंग से ही चिढ़ है। काला रंग देखते ही वह घबरा जाती हैं।
श्री गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार ने पिछले साढ़े चार वर्ष में कुछ नहीं किया। किसान आत्महत्यायें कर रहे हैं। फसल नष्ट हो रही है, किसान आये दिन आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन सरकार को किसी की परवाह नहीं है। श्रीमती राजे पीड़ितों की सुनती ही नहीं। जयपुर में समस्यायें लेकर पहुंचने वाले पीड़ितों में किसी को नहीं बख्शा गया और लाठियां बरसाई गईं। अब वह किस मुंह से वोट मांगती घूम रही हैं। उन्होंने जो करम किये हैं, जनता अब उनका हिसाब मांग रही है। उन्होंने कहा कि अगले चुनाव में जनता ने उन्हें उखाड़ने के लिये कमर कस ली है।
श्री गहलोत ने प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए कहा कि उन्होंने अच्छे दिन आने का ऐसा माहौल बनाया कि जैसे वह चांद तारे तोड़कर लाकर देंगे। उन्होंने कालाधन लाने की बात कही आज तक काले धन का एक भी रुपया नहीं आया। देश में डरावना और अविश्वास का माहौल बन गया है। ऐसा हिंसा का माहौल पहले कभी नहीं देखा गया। कच्चे तेल के दाम दुनियाभर में कम हो रहे हैं, लेकिन देश में पेट्रोल के दाम बढ़ते ही जा रहे हैं। इससे महंगाई बढ़ रही है। देश में पेट्रोल बढ़ने का कारण उस पर टैक्स ज्यादा लगाना है। उन्होंने जनता का आह्वान किया कि पेट्रोल के दाम बढ़न के विरोध में 10 सितम्बर को कांग्रेस के भारत बंद में सहयोग करके अपना विरोध जतायें।
समारोह में विधानसभा में विपक्ष के नेता रामेश्वर डूडी, राजस्थान के पूर्व मंत्री प्रो0 बी डी कल्ला, कांग्रेस विधायक भंवरसिंह भाटी ने भी सम्बोधित किया। समारोह में भारतीय जनता पार्टी के कई कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल हो गये।
सुनील सैनी
वार्ता
image