Wednesday, Sep 26 2018 | Time 18:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हीरो मोटोकार्प के दोपहिया वाहन हुये महंगे
  • भ्रष्टाचार के मामले में दिल्ली सरकार का अधिकारी गिरफ्तार
  • राजद विधायक अबू दोजाना के ठिकानों पर आयकर का छापा
  • माकपा ने सरकारी योजनाओं में आधार को अनिवार्य बनाने का विरोध किया
  • हरियाणा सरकार में कच्चे कर्मचारी होंगे नियमित
  • आधार पर हमारे नजरिये के समर्थन के लिए कोर्ट का आभार : राहुल
  • सायना आसान जीत से दूसरे दौर में, समीर बाहर
  • बिहार ने मेघालय को 108 रन से हराया
  • किसान सभा ने की पंजाब में गिरदावरी और मुआवजे की मांग
  • एसबीआई कार्ड और अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप ने लॉन्च किया को-ब्रांडेड कार्ड
  • आर्टिफिशल इंटेलिजेंस से नहीं घटेंगे रोजगार के अवसर : सारस्वत
  • भारत-बंगलादेश ने विस्तृत आर्थिक साझेदारी पर जतायी सहमति
  • आर्टिफिशल इंटेलिजेंस से नहीं घटेंगे रोजगार के अवसर : सारस्वत
  • एसपी की हत्या में मामले दो माओवादियों को फांसी
  • अोड़िशा ने दिल्ली को 9 रन से चौंकाया
राज्य Share

बेअदबी के मामलों की जांच करेगी पांच सदस्यीय एसआईटी

चंडीगढ़ , 11सितंबर (वार्ता) पंजाब सरकार द्वारा गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी से संबंधित आपराधिक मामलों व एफआईआर की जांच के लिये कल गठित विशेष जांच टीम के सदस्य पुलिस महानिरीक्षक अरूणपाल सिंह ने कहा है कि एसआईटी पुलिस महानिदेशक सुरेश अरोड़ा के आदेशों का पालन करेेंगे ।
एसआईटी के प्रमुख जांच ब्यूरो के निदेशक प्रबोध कुमार होंगे ।टीम के अन्य सदस्यों में आईजी कुंवर विजय प्रताप सिंह ,कपूरथला के वरिष्ठ जिला पुलिस अधीक्षक सतिंदर सिंह और पीआरटीसी जहानखेलां के कमांडेंट भूपिंदर सिंह शामिल हैं ।कल यहां जारी आदेश के अनुसार जरूरत के मुताबिक जांच में सहायता के लिये अन्य अधिकारी शामिल किये जा सकते हैं ।
सरकार ने पिछले दिनों बेअदबी के मामलों की जांच सीबीआई से वापस लेने का फैसला किया था और इस मामले में अधिसूचना भी जारी की जा चुकी है । हाल में पंजाब विधानसभा के मानसून सत्र में बेअदबी के मामलों की जांच सीबीआई से वापस लेने ,सुप्रीम कोर्ट के जज से मामले की जांच कराये जाने की पुरजोर मांग की गई थी ।बाद में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बेअदबी के मामले सीबीआई से वापस लेकर एसआईटी से कराने का ऐलान किया था ।
शर्मा विजय
वार्ता
More News

हरियाणा सरकार में कच्चे कर्मचारी होंगे नियमित

26 Sep 2018 | 6:42 PM

चंडीगढ़, 26 सितम्बर(वार्ता) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक महत्वपूर्ण कदम के तहत राज्य में गत 20-25 वर्षों से अधिक अवधि से तदर्थ, वर्कचार्ज और अंशकालिक आधार पर कार्यरत कर्मचारियों की सेवाएं 2003 और 2004 की नीतियों के तहत नियमित करने का फैसला लिया है।

 Sharesee more..

स्कूली बस से कुचलकर छात्र की मौत

26 Sep 2018 | 6:41 PM

 Sharesee more..
image