Thursday, Sep 19 2019 | Time 14:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • प्रोफेसर के माफी मांगने पर अवमानना मामला खत्म
  • चेन्नई तिलहन के भाव
  • मरने के बाद भी ‘करवट’ बदलते हैं लोग:अनुसंधान
  • तबीयत में सुधार नहीं होने पर वीरभद्र सिंह पीजीआई चंडीगढ़ रैफर
  • आदर्श ग्राम विकास केंद्र को समर्पित करेंगे प्रणव पंडया
  • तेजस देश के रक्षा शोध संस्थानों की सबसे बडी उपलब्धि: राजनाथ सिंह
  • तेजस देश के रक्षा शोध संस्थानों की सबसे बडी उपलब्धि
  • अफगानिस्तान में हवाई हमले में 30 की मौत, 45 घायल
  • बोको हराम को मुंहतोड़ जवाब देगा कैमरून
  • भारतीय टीम अपराजेय नहीं: बावुमा
  • भारतीय टीम अपराजेय नहीं: बावुमा
  • तेज रफ्तार बस की चपेट में आने से युवक की मौत
  • सुरेन्द्र नागर और संजय सेठ ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली
  • कोलकाता में व्यक्ति ने मेट्रो के सामने कूद कर दी जान
  • निम्रिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर विशेषग्यों ने उठाए सवाल
राज्य


ग्रीष्मकालीन घुड़सवारी और शूटिंग प्रशिक्षण शिविर तीन मई से

भोपाल, 01 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश के खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा 3 से 13 मई तक ग्रीष्मकालीन घुड़सवारी और शूटिंग प्रशिक्षण शिविरों का आयोजन किया जायेगा।
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार 11 दिवसीय इन प्रशिक्षण शिविरों में शूटिंग खेल का प्रशिक्षण भोपाल के टी टी नगर स्टेडियम में तथा घुड़सवारी का प्रशिक्षण राज्य घुड़सवारी अकादमी ग्राम गौरा बिशनखेड़ी होगा। घुड़सवारी प्रशिक्षण शिविर के लिये निर्धारित 24 सीटों के आधार पर फार्म प्रदान किये जायेंगे, जिसमें 11 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बालक- बालिका खिलाड़ियों को ही प्रवेश दिया जायेगा।
वहीं, शूटिंग प्रशिक्षण में कुल 30 सीटों के आधार पर प्रवेश फार्म प्रदान किये जायेंगे, जिसमें 11 से 17 वर्ष आयु वर्ग के बालक- बालिका खिलाड़ियों को ही प्रवेश दिया जायेगा। शिविर में प्रशिक्षण का समय सुबह 7 से 8 बजे तथा शाम साढे पांच से साढ़े छह बजे तक रखा गया है।
घुड़सवारी तथा शूटिंग प्रशिक्षण के प्रवेश फार्म एक मई से तात्या टोपे स्टेडियम भोपाल में प्रातः 8 बजे से शाम 6 बजे तक प्राप्त किये जा सकेंगे। फार्म प्राप्त कर निर्धारित प्रशिक्षण शुल्क जमा करने वाले खिलाड़ियों को ही प्रशिक्षण दिया जायेगा।
बघेल
वार्ता
More News
जान के डर से श्वानो का बदला स्वभाव

जान के डर से श्वानो का बदला स्वभाव

19 Sep 2019 | 2:06 PM

प्रयागराज,19 सितंबर (वार्ता) तीर्थराज प्रयाग में गंगा और यमुना के जलस्तर में लगातार हो रही बढोत्तरी से आम लोगों की तरह ही आवारा पशु भी सुरक्षित स्थान की तलाश में जुटे हैं। आमतौर पर अंजान चेहरों को देख भौंक कर धमकाने वाले श्वानों ने भी मुसीबत की घड़ी में अपना स्वभाव बदल लिया है।

see more..
image