Wednesday, Jun 19 2019 | Time 09:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चीन में मादक पदार्थ बनाने पर पांच को मौत की सजा
  • फैक्ट्री विस्फोट से मरने वालों की संख्या बढ़कर 6 हुई
  • मोदी ने राहुल को जन्मदिन की शुभकामनायें दी
  • जापान में 6 7 तीव्रता के भूकंप से 21 लोग घायल
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 20 जून)
  • मार्क एस्पर होंगे पेंटागन के नए प्रमुख
  • पोम्पियो और मोघरीनी ने अमेरिका-यूरोपीय संघ की साझा चुनौतियों पर की चर्चा
  • माली में आतंकवादी हमले में 38 लोगों की मौत
  • ईरान के मुद्दे पर सहयोगियों के साथ मिलकर काम करेगा अमेरिका: पोम्पियो
  • मार्क एस्पर होंगे अमेरिका के नए कार्यकारी रक्षा मंत्री
  • झारखंड में होगी केवल एक जल योजना : रघुवर
  • केरल माकपा प्रमुख के बेटे पर दुष्कर्म का मामला दर्ज
  • किसानों को प्रति बूंद अधिक फसल योजना का लाभ देने में झारखंड अव्वल
राज्य » उत्तर प्रदेश


रिजवान जहीर फिर से बसपा में शामिल

बलरामपुर 21 अप्रैल (वार्ता) समाजवादी पार्टी (सपा) ,पीस पार्टी और कांग्रेस का दामन थामने वाले बलरामपुर जिले के पूर्व सांसद रिजवान जहीर ने रविवार को घर वापसी करते हुये बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की सदस्यता ग्रहण कर ली।
बसपा के पूर्व विधायक राम सागर और गठबंधन प्रत्याशी राम शिरोमणि वर्मा की मौजूदगी मे रिजवान जहीर ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस मौके पर पूर्व सांसद ने कहा कि वह देश,संविधान को बचाने और प्रधानमंत्री की कुर्सी से श्री नरेन्द्र मोदी को हटाने के लिए पीस पार्टी छोड़ कर बसपा ज्वाइन कर रहे है।
श्री जहीर बलरामपुर लोक सभा सीट से वर्ष 1998 और 1999 मे लगातार दो बार समाजवादी पार्टी से सांसद रह चुके है। इससे पहले वह तुलसीपुर विधान सभा क्षेत्र से विधायक भी निर्वाचित हो चुके है। रिजवान ने 2014 मे लोक सभा चुनाव पीस पार्टी के टिकट पर लड कर करीब एक लाख वोट हासिल किया था। बलरामपुर और श्रावस्ती जिले की राजनीति मे रिजवान जहीर को मुस्लिम चेहरे के तौर पर जाना जाता है। रिजवान जहीर की करीब एक दशक बाद पुनः बहुजन समाज पार्टी (बसपा)मे घर वापसी हुई है।
सं प्रदीप
वार्ता
More News
उप्र में केसीसी 51,500 करोड़ के लक्ष्य को करें पूरा: शाही

उप्र में केसीसी 51,500 करोड़ के लक्ष्य को करें पूरा: शाही

19 Jun 2019 | 8:52 AM

लखनऊ, 19 जून (वार्ता) उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने नाबार्ड के अधिकािरयों से कहा कि वे प्रदेश में अभियान चलाकर किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) को बढ़ाकर 51,500 करोड़ रुपये के लक्ष्य को शीघ्र पूरा करें ।

see more..
image