Wednesday, Nov 13 2019 | Time 02:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • संयुक्त राष्ट्र ने गाजा पट्टी की स्थिति पर जतायी चिंता
  • इजरायल ने दक्षिणी गाजा में घोषित की 48 घंटे की आपातकाल
  • ट्रम्प- मैक्रों ने सीरिया के मुद्दे पर समन्वय को जारी रखने पर जतायी सहमति
  • डोडा में दर्दनाक सड़क दुर्घटना, 16 लोगों की मौत
राज्य » उत्तर प्रदेश


राष्ट्रीय जावड़ेकर अर्थव्यवस्था दो लखनऊ

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि चीन में मंदी का दौर है। उद्योग वहां से बाहर निकलना चाहते है। इसका लाभ उठाने और अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये मोदी सरकार ने 50 निर्णय लिये है। उद्योग लगाने में आने वाली कानूनी अडचने दूर की गयी है जिससे कई सीधे तरीके से निवेश आयेंगे।
उन्होने कहा कि देश में बैंको के विलयीकरण की प्रक्रिया का मकसद क्रेडिट मॉनिटरिंग की बेहतरी के साथ प्रतिभाओं कोे एक छत के नीचे लाना है। देश में 27 बैंक थे। विलयीकरण के अब इनकी संख्या 12 है। जीएसटी लागू होने के निर्णय ने भी क्रांतिकारी परिवर्तन किया है। अब सभी को लगने लगा है कि जीएसटी से काम अच्छा होता है।
केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि इंफ्रास्ट्रचर के क्षेत्र में देश ने हाल के वर्षो में काफी प्रगति की है। सरकार हर स्तर पर कनेक्टिविटी को बेहतर कर रही है। सड़क के साथ रेल, जलमार्ग की बेहतरी के उपाय किये गये हैं। शुक्रवार को लखनऊ से नई दिल्ली के बीच तेजस एक्सप्रेस और इससे पहले नई दिल्ली से जम्मू तवी के बीच चलने वाली वंदेभारत एक्सप्रेस इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है।
उन्होने कहा कि वाराणसी से कोलकाता तक शुरू किये गये जल परिवहन से सड़कों पर बोझ कम हुआ है। देश में सडकों से संजाल बिछ गया है। नयी सडकों के अलावा दशकों से लंबित पडी परियोजनाओं से सडक यातायात सुगम हुआ है।
प्रदीप
जारी वार्ता
image