Friday, Nov 22 2019 | Time 01:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बस के मार्शल और कंडक्टर ने बच्ची को अपहरण से बचाया
  • मिस्टर ग्रैंड इंटरनेशनल प्रतियोगिता जीतने वाले पहले एशियाई बने अश्विनी
राज्य » उत्तर प्रदेश


उत्तर प्रदेश वाराणसी थाना दो अंतिम वाराणसी

बैठक में पुलिस विभाग के विभिन्न निर्माण कार्यों एवं जमीन की जरूरतों का एक-एक कर समीक्षा की और लंबित प्रकरण एक सप्ताह में क्रियाशील करने के निर्देश दिया। सीओ पिंडरा से उनके कार्यकाल की क्राइम कंट्रोल कार्यों की आख्या मांगी। एसपी क्राइम से भी उनके कार्यकाल की रिपोर्ट 15 दिन में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
श्री अवस्थी ने थाना एवं पुलिस अधिकारीवार कार्यों की गहन समीक्षा करते हुए कहा कि शिथिलता बरतने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने हिदात देते हुए कहा कि पुलिस या ट्रैफिक पुलिस द्वारा अवैध वसूली किसी भी हालत में नहीं होनी चाहिए। उच्च स्तर के अधिकारी गहन पर्यवेक्षण करें। कुछ मामलों में उन्होंने एडीजी, आईजी तथा एसएसपी से विजिट करने एवं पर्यवेक्षण कर रिपोर्ट की अपेक्षा की।
अपर मुख्य सचिव स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत सिगरा में लगभग 150 करोड़ की लागत से बने एकीकृत ‘कमांड कंट्रोल सेंटर’ का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कमांड कंट्रोल सेंटर में एकत्रित डेटा का लाइव कनेक्टिविटी संबंधित थानों से जोड़े जाने पर जोर देते हुए कहा कि निश्चित रूप से इससे अपराध नियंत्रण करने में सहयोग मिलेगा। उन्होंने कहां कि लाइव डेटा थानों से जुड़ने का एक बहुत बड़ा फायदा यह मिलेगा कि संबंधित थाना अपने थाना क्षेत्रों में होने वाले पल-पल की स्थिति पर नजर रख सकेंगे।
बैठक में एडीजी बृजभूषण, मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल, आईजी विजय सिंह मीणा, प्रभारी जिलाधिकारी गौरांग राठी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी, अपर जिलाधिकारी नगर विनय कुमार सिंह सहित पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस उपाधीक्षक आदि मौजूद थे।
बीरेंद्र प्रदीप
वार्ता
image