Thursday, Oct 29 2020 | Time 05:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • इंग्लैंड में कोरोना के कारण अपराधों में भारी कमी
  • चिली में भूकंप के तेज झटके
  • तुर्की में कोरोना संक्रमितों की संख्या 368,513 हुई
  • जर्मनी में कोरोना के मामलों में एक बार फिर उछाल
राज्य » उत्तर प्रदेश


मध्य प्रदेश में एसटीएफ ने साढ़े चार करोड़ का गांजा किया बरामद,दो गिरफ्तार

लखनऊ, 05 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) और मध्य प्रदेश पुलिस ने अन्तर्राज्यीय स्तर पर मादक पदार्थो की तस्करी करने वाले गिरोह के ट्रक सवार दो सदस्यों को शनिवार को मालवा से गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 1727 किलो ग्राम गांजा बरामद किया,जिसकी कीमत करीब साढ़े चार करोड़ रुपया आंकी गई है।
एसटीएफ के प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एसटीएफ को विगत काफी दिनों से तेलंगाना व आन्ध प्रदेश राज्यों से मादक पदार्थो की तस्करी करने वाले तस्करों के सक्रिय होने की सूचनायें प्राप्त हो रहीं थी।
इस सम्बन्ध में पुलिस महानिरीक्षक एसटीएफ के निर्देश पर विभिन्न टीमों को अभिसूचना संकलन एवं कार्रवाई के लिए
निर्देशित किया गया था। इसी क्रम में एसटीएफ मेरठ के पुलिस अधीक्षक केे निर्देशन में उपनिरीक्षक सौरभ विक्रम सिंह, एसटीएफ फील्ड इकाई, गौतमबुद्धनगर की टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी।
उन्होंने बताया कि अभिसूचना संकलन के दौरान एसटीएफ की गौतमबुद्धनगर फील्ड इकाई की टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि भद्राचिलम से आगेे तेलंगाना, आन्ध प्रदेश बार्डर के पास से एक ट्रक में कुछ अवैध सामग्री की बड़ी खेप वारंगल, आन्ध्र प्रदेश, आदिलाबाद, नागपुर(महाराष्ट्र), खरगौन, बुढ़ानपुर से होकर उत्तर प्रदेश में आगरा से बुलन्दशहर होते हुए गाजियाबाद आने वाली है। इस सूचना पर उपनिरीक्षक सौरभ विक्रम सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर उसे सुसनेर मध्यप्रदेश पुलिस को साथ लेकर मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान पर पहुंचकर तहसील चैराहा आगर कोटा
रोड मालवा मध्य प्रदेश से ट्रक सवार तस्कर मोदीनगर निवासी शुभम त्यागी और लोकेश कुमार को गिरफ्तार किया।
उनके ट्रक से 1727 किलो ग्राम गांजा बरामद किया।
प्रवक्ता ने बताया कि पकड़े गये आरोपियों ने पूछताछ पर बताया कि गांजे की सप्लाई मुख्य रूप से भद्राचिलम से आगे तेलंगाना, आन्ध्र प्रदेश बार्डर के पास के जंगलों से माल भरकर वारंगल-नान्देड़ के रास्ते होते हुए नागपुर होते हुए
खरगौन मध्य प्रदेश होते हुए उत्तर प्रदेश में आगरा और बुलन्दशहर से होते हुए गाजियाबाद जाते हैं, जहाॅ से इस गांजे का वितरण अन्य ड्रग पैडलर्स के माध्यम से एनसीआर क्षेत्र में कराया जाता है। इस अवैध गांजा सप्लाई में मुख्य रूप से सुनित चौधरी उर्फ मामा निवासी सैदपुर भूड़ीत्र गुलावठी बुलन्दशहर तथा इरफान उर्फ नेता निवासी गाजियाबाद सम्मिलित रहते हैं। इरफान उर्फ नेता आन्ध्र प्रदेश में रहकर गांजा की लोडिंग का काम देखता है तथा ट्रान्सपोर्ट की जिम्मेदारी सुनित चौधरी उर्फ मामा की होती है। सुनित चौधरी ने अपना ठिकाना/गोदाम गाजियाबाद में बनाया हुआ है, जिसके बारे में
और अधिक जानकारी एकत्रित की जा रही है।
उन्होंने बताया कि इस गांजे का ट्रान्सपोर्ट करने के लिए इस संगठित गिरोह बन्द बाॅडी की ट्रकों में बड़ी कैविटी बना रखी है, जिससे गांजा आदि की तस्करी करते हैं और इस अवैध ट्रान्सपोर्ट के लिए सुनित चौधरी 500 रूपये प्रति किलोग्राम लेता है तथा ट्रान्सपोर्ट लोकेश कुमार करता है और शुभम त्यागी केयर टेकर का काम देखता है।
त्यागी
वार्ता
image