Saturday, Feb 27 2021 | Time 16:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोदी का वाराणसी को सौगात, चलेंगी सीएनजी नावें : प्रधान
  • माघ पूर्णिमा पर लाखों लोगों ने किया स्नान
  • कोरोना नियंत्रण में लेकिन प्रभावी व्यवस्था जरूरी : योगी
  • वेंकैया ने न्यायिक व्यवस्था को अधिक सुगम,किफायती बनाने का किया आह्वान
  • गेल की 18 महीने और एडवर्ड्स की नौ साल बाद वेस्ट इंडीज टीम में वापसी
  • कोरोना की राेकथाम के लिए बड़े पैमाने पर टीकाकरण करें: राजीव गौबा
  • भाजपा महिला कार्यकर्ताओं ने मंत्री संजय राठोड़ का मांगा इस्तीफा
  • योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने के लिए जागरुकता रथ रवाना
  • पांच नशा तस्कर हेरोइन और नशीली गोलियों सहित गिरफ्तार
  • महाराष्ट्र में तेजी से बढ़े सक्रिय कोरोना मामले
  • वेंकैया हिमाचल विधानसभा की घटना से व्यथित
  • खिलौना मेला आत्मनिर्भर भारत की दिशा में बड़ा कदम: मोदी
  • कानून का राज कायम करना सिर्फ सरकार का काम नहीं,न्यायपालिका की भी बहुत बड़ी भूमिका - नीतीश
राज्य » उत्तर प्रदेश


बरेली में बीडीए ने अतिक्रमण कर बनाया गया धार्मिक स्थल का गेट व मजार हटाई

बरेली, 07 जनवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश में बरेली विकास प्राधिकरण (बीडीए) ने अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत अतिक्रमण कर बनाये गये दो धार्मिक स्थलों को हटा दिया।
इस दौरान समुदाय विशेष के आक्रोशित लोगो ने सड़क जाम कर बबाल किया और अतिक्रमण हटाने पर बीडीए के कर्मचारियों का घेराव भी किया। पुलिस ने सड़क जाम और बबाल करने वालों को हल्का बल प्रयोग कर खदेड दिया।
इलाके के उपजिलाधिकारी विशु राजा ने बताया कि बरेली सदर क्षेत्र के चंद्रपुर बिचपुरी क्षेत्र में बीडीए द्वारा राम गंगा नगर कालोनी विकसित की जा रही है। उसी के तहत आज अपराह्न बरेली विकास प्राधिकरण के कर्मचारी वहां अतिक्रमण को हटाने गये और क्षेत्र के लोगों ने मजार को हटाने का विरोध किया। इलाके के लोगों का कहना था कि यह मजार 350 साल पुरानी है जबकि उपजिलाधिकारी विशु राजा का कहना है की राजस्व रिकार्ड में मजार का कहीं भी उल्लेख नहीं है। वहां सिर्फ कब्रिस्तान का उल्लेख है। उसके बाद भी वहां के लोग विरोध करने लगे।
उन्होंने बताया कि कानून व्यवस्था के मद्देनजर पुलिस ने सांकेतिक हल्का बल प्रयोग किया और क्षेत्र के लोगों को खदेड़ दिया। इस बीच क्षेत्र के लोगों को आश्वसन दिया कि बरेली विकास प्राधिकरण वहां मौजूद कब्रिस्तान को विकसित कराएगा। उसके बाद लोग शांत हो गए। उन्होंने बताया कि उसी क्षेत्र में एक मंदिर का गेट अतिक्रमण में था उसे भी ढहा दिया गया।
इस बीच पुलिस अधीक्षक(सिटी) रविंद्र कुमार ने बताया कि क्षेत्र में शांति है, क्षेत्र के लोगों ने बबाल करना चाहा था लेकिन पुलिस बल के चलते, विरोध का स्वर ठंडा पड़ गया।
सं त्यागी
वार्ता
image