Tuesday, Oct 27 2020 | Time 21:34 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तेलंगाना के वरांगल में कुआं में गिरी जीप, 11 घायल
  • पश्चिम चंपारण में आचार संहिता उल्लंघन मामले में दो प्रत्याशी और वाहन चालकों पर प्राथमिकी
  • लखीमपुर खीरी में एकाएक 167 और बढ़े कोरोना संक्रमित
  • भ्रष्टाचार सामाजिक संतुलन को नष्ट कर देता है : मोदी
  • पश्चिम चंपारण में 20 लाख की शराब बरामद, एक गिरफ्तार
  • स्कूल भवनों का निर्माण भविष्य की आवश्यकताओं के दृष्टिगत किया जाए:योगी
  • जयपुर में महामारी अध्यादेश उल्लंघन पर एक करोड़ 82 लाख जुर्माना वसूला
  • नया कृषि कानून किसानों की बजाय पूंजीपतियों को लाभ देने वाला- बृजमोहन
  • बिजनेस मीट में कई कम्पनियों ने खट्टर और चौटाला से मुलाकात में दिये बिजनेस प्रस्ताव
  • निशंक ने मोदी पर केंद्रित पुस्तक का किया विमोचन
  • साहा और वार्नर के विस्फोट से हैदराबाद के 219
  • गोण्डा में गैंगेस्टर की आठ करोड़ साढ़े 41 लाख की सम्पत्ति जब्त
  • कोरोना गुजरात मामले दो अंतिम गांधीनगर
  • खट्टर गुरूग्राम में दिखाई 20 नई एम्बूलेंस को हरी झंडी
  • 992 नए मामले,1238 हुए स्वस्थ, सक्रिय मामलों में और कमी
राज्य » उत्तर प्रदेश


भाजपा सरकार के खिलाफ जनाक्रोश चरम पर: अखिलेश

भाजपा सरकार के खिलाफ जनाक्रोश चरम पर: अखिलेश

लखनऊ 06 सितम्बर (वार्ता) समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश की जनता में भाजपा सरकार की नीति-रीति के खिलाफ जनाक्रोश चरम पर है।

श्री यादव ने रविवार को कहा कि वादा खिलाफी का दंश झेल रहे किसानों के लिए भाजपा का जंगलराज काल बन गया है। युवाओं ने युवा व छात्र विरोधी भाजपा सरकार के खिलाफ जगह-जगह संघर्ष छेड़ दिया है। प्रदेश में एक ओर कोरोना संकट बढ़ता ही जा रहा है दूसरी तरफ प्रशासनतंत्र दिन पर दिन बिगड़ती आर्थिक व सामाजिक स्थितियों के प्रति उदासीन है। जनता को उसके भाग्य पर छोड़कर मुख्यमंत्री जहां-तहां व्यस्त हो जाते हैं। उनसे यह प्रदेश सम्हलने वाला नहीं है।

उन्होने कहा कि कोरोना काल हो या सामान्य भाजपा सरकार की खुशहाली विनाशक नीतियों के चलते श्रमिक, किसान लगातार अपनी जानें गंवा रहे हैं। नोएडा में पिछले महीने में 145 आत्महत्याएं दर्ज हुईं। सीतापुर में महोली क्षेत्र के भूड़ाहूसा गांव निवासी किसान रामचन्द्र वर्मा की गला रेतकर हत्या कर दी गईं। अमेठी के गौरीगंज थानान्तर्गत उत्तरगांव के मजरे बस्तीदेई में किसान को जिंदा जला दिया गया। कानपुर देहात के खपरेमऊ गांव में किसान पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गई। हत्या, लूट अपहरण और छेड़छाड़ की घटनाएं तो रोज की बात हो गई है। इन पर कोई लगाम नहीं लगी है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार की किसानों के प्रति निष्ठुरता का पता इसी से लगता है कि खुद रामनगरी अयोध्या में पुण्यकार्य के लिए किसानों की भूमि का अधिग्रहण तो कर लिया गया मगर उन्हें उचित मुआवजा नहीं दिया गया। इस अधिग्रहीत जमीन के लिए किसानों में आम सहमति बनाकर उन्हें सर्किल रेट बढ़ाकर छह गुना मुआवजा सरकार को देना चाहिए।

युवाओं में भाजपा सरकार के प्रति गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है। भाजपाई इस गुस्से के तूफान से बचने के लिए मुंह छुपाए बैठे हैं। तमाम विरोध के बावजूद कोरोना संकटकाल में परीक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। रोजगार के नाम पर उनको भटकाया जा रहा है। ऑनलाइन पढ़ाई का मजाक बनाया जा रहा है। गरीब छात्रों के पास बस वही लैपटाप हैं जो समाजवादी सरकार ने बांटे थे। भाजपा ने भी लैपटाप देने का वायदा किया था लेकिन वायदा खिलाफी भाजपा का स्थायी चरित्र है।

श्री यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी की मांग है कि भाजपा सरकार युवाओं एवं छात्रों की समस्याओं के समयबद्ध समाधान के लिए ‘यूथचार्टर‘ जारी करे।

प्रदीप

वार्ता

image