Monday, Mar 1 2021 | Time 09:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मराठवाड़ा में कोरोना के 639 नये मामले, आठ लोगों की मौत
  • मोदी ने एम्स जाकर लिया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज
  • मोदी ने एम्स जाकर लिया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 02 मार्च )
  • कोरोना के कारण महाराष्ट्र के हिंगोली में सात दिन का कर्फ्यू
  • अमेरिका लगा सकता है म्यांमार के खिलाफ और पाबंदी
  • पेट्रोल डीजल की कीमतों में लगातार दूसरे दिन टिकाव
  • ट्रम्प ने तीसरी बार राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ने का दिया संकेत
  • 'सीरिया की वायु रक्षा प्रणाली ने इजरायल के रॉकेट हमले को विफल किया'
  • ट्रम्प ने की बिडेन की नीतियों की आलोचना
  • ईरान ने 32 देशों के लोगों के अपने देश में आने पर लगायी रोक
  • तृणमूल तथा भाजपा एक ही सिक्के के दो पहलू
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


शिवराज ने गड़करी से की मुलाकात

शिवराज ने गड़करी से की मुलाकात

भोपाल, 18 जनवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नई दिल्ली में केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गड़करी से उनके निवास पर मुलाकात कर ग्वालियर-चम्बल क्षेत्र में चम्बल एक्सप्रेस-वे को अटल एक्सप्रेस-वे का नाम दिये जाने का प्रस्ताव किया।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश सरकार ने इस कार्य के लिए 1500 हेक्टेयर की जमीन चिन्हित कर उपलब्ध करवा दी है। साथ ही फारेस्ट की जमीन की उपलब्धता भी सुनिश्चित कर दी है। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री से अनुरोध किया कि प्रस्तावित एक्सप्रेस-वे का डीपीआर बन कर एलाइनमेंट सुनिश्चित किया जाय। साथ ही इसके लिए अगर प्राइवेट जमीन अधिग्रहीत करने की जरूरत होगी तो वह भी राज्य सरकार द्वारा की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने बताया कि अटल एक्सप्रेस-वे ग्वालियर-चम्बल संभाग के लिए वरदान साबित होगा। रोजगार के नये अवसर बनेंगे। श्री चौहान ने बताया कि एक औद्योगिक क्लस्टर (समूह) के रूप में विकसित कर रोजगार के नये अवसर युवाओं के लिए उपलब्ध कराये जायेंगे। इस क्षेत्र की पूरी तस्वीर बदलने का काम यह एक्सप्रेस-वे करेगा।

श्री चौहान ने केन्द्रीय मंत्री से अनुरोध किया कि एमएसएमई के माध्यम से सबसे ज्यादा रोजगार के अवसर उपलब्ध होते हैं। एमएसएमई के द्वारा उद्योगों के समूह को विकसित करने का काम मध्यप्रदेश सरकार कर रही है। राज्य सरकार ने अभी 19 एमएसएमई क्लस्टर विकसित करने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को दिया है। इनमें से जबलपुर का मिष्ठान और नमकीन क्लस्टर को स्वीकृति मिल गयी है। शेष तीन औद्योगिक क्षेत्र भोपाल, गुना और रतलाम के क्लस्टर को सैद्धांतिक स्वीकृति देने पर सहमति हो गई है। शेष 15 पर अभी सैद्धांतिक सहमति होना बाकी है। केन्द्रीय मंत्री ने स्वीकृति देने की पूरी कार्यवाही एक माह के भीतर करने का आश्वासन दिया है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि अटल एक्सप्रेस-वे के एलायमेंट का कार्य डेढ़ माह में हो जायेगा। साथ ही प्रदेश के संसदीय क्षेत्रों से आये सीआरएफ के अंतर्गत 26 प्रस्ताव भी केन्द्र को स्वीकृति के लिए भेजे जा चुके हैं और आग्रह किया है कि ये सभी प्रस्ताव केन्द्रीय सड़क निधि योजना के अंतर्गत स्वीकृत किये जायें। श्री गड़करी ने उपरोक्त सभी मामलों पर अपनी सहमति जताते हुए शीघ्र स्वीकृति दिलवाने का आश्वासन दिया है।

बघेल

वार्ता

More News
शिवराज ने पश्चिम बंगाल के जगतवल्लभपुर में बाँस का पौधा लगाया

शिवराज ने पश्चिम बंगाल के जगतवल्लभपुर में बाँस का पौधा लगाया

28 Feb 2021 | 10:25 PM

भोपाल, 28 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पश्चिम बंगाल प्रान्त के भ्रमण के दौरान आज जिला हावड़ा के जगतवल्लभपुर में बाँस का पौधा लगाया।

see more..
image