Thursday, Jul 2 2020 | Time 22:08 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • असम में बाढ़ प्रभावितों की संख्या 16 लाख से अधिक
  • हरियाणा में कोरोना के 568 नये मामले, कुल संख्या 15509 पहुंची, 251 मौतें
  • मुंगेर में पुलिस मुठभेड़ में हथियार के साथ कुख्यात गिरफ्तार
  • जालौन: चार नये मरीज मिलने से जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 192
  • सीकर में शहीद की अंतिम विदाई में उमड़ा जनसैलाब
  • जमुई में कपड़ा दुकान के कर्मचारी से डेढ़ लाख की लूट
  • भारतीय सेना की कार्रवाई में दो पाकिस्तानी सैनिक मरे, कई बंकर ध्वस्त
  • बोकारो से कुख्यात गांजा तस्कर विनोद कुमार समेत दो गिरफ्तार
  • ट्रम्प ने सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने का किया समर्थन
  • पश्चिम चंपारण में ट्रैक्टर चोर गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार
  • कोरोना मामले 6 18 लाख के पार, रिकवरी दर 60 फीसदी के करीब
  • पद्म पुरस्कारों के लिए नामांकन 15 सितम्बर तक
  • अप्रैल 2023 में शुरू होगा निजी ट्रेनों का परिचालन : यादव
  • जालौन: पुलिस ने सत्रह साल बाद दबोचा ईनामी बदमाश
  • कोरोना गुजरात मुख्यमंत्री बैठक दो अंतिम गांधीनगर
मनोरंजन » बॉलीवुड


भारतीय सिनेमा के गांधी थे वही शांताराम

भारतीय सिनेमा के गांधी थे वही शांताराम

पणजी, 21 नवंबर (वार्ता) महान फिल्मकार वही शांताराम के पुत्र किरण शांताराम को इस बात का गहरा दुख है कि केंद्र सरकार ने उनके पिता की विरासत एवं स्मृति को सुरक्षित करने के लिए कोई उल्लेखनीय कार्य आज तक नही किया।

शांताराम की स्मृति में स्थापित न्यास के अध्यक्ष किरण शांताराम ने 50वें अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म समारोह के दौरान एक भेंन्ट वार्ता में यह क्षोभ व्यक्त किया।
अपने पिता की तरह गांधी टोपी पहने एवं विनम्र तथा शालीन व्यक्तित्व के धनी श्री शांताराम ने यूनीवार्ता से कहा कि दादा साहब फाल्के के बाद अगर भारतीय सिनेमा में कोई बड़ी हस्ती थी तो उनके पिता थे लेकिन सरकार ने उनकी सुध नहीं ली।

यह पूछे जाने पर की न्यास ने सरकार से कभी कोई मांग नही की,इस पर श्री शांताराम ने कहा कि हमारा काम सरकार से मांग करना नही।
यह तो सरकार को खुद सोचना चाहिए और करना चाहिए।
मेरे पिता 1901 में पैदा हुए उन्होंने भारतीय सिनेमा को अपने जीवन के 70 साल दिए और कुल 92 फिल्में बनाई जिनमें 55 फिल्मों का निर्देशन किया और 25 फिल्मों में खुद काम किया।
उन्होंने ‘दो आंखे बारह हाथ’, ‘नवरंग’ और ‘झनक झनक बाजे पायलिया’ जैसी अनेक अमर एवं कल्पनाशील फिल्में दी लेकिन आज की नई पीढ़ी को उन्हें याद करने की फुरसत नही।

उन्होंने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि उनके पिता ने सिनेमा के जरिये उसी तरह समाज को बदलने का काम किया जिस तरह महात्मा गांधी ने किया।
उन्हें हिंदी सिनेमा के गांधी कहा जाय तो इसमे कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी।
गांधी के मूल्यों और आदर्शों पर उनके पिता चलते रहे और समाज सुधार का काम करते रहे।
उनके लिए फ़िल्म मिशन था बाज़ार नही था।

उन्होंने कहा कि वह खुद बचपन से अपने पिता के साथ लगे रहे और निर्देशन में हाथ बटाते रहे।
नवरंग के सह निर्देशक भी वह थे।
उन्होंने कहा कि उनके पिता ने जीवन काल मे ही वी शांताराम न्यास का गठन किया था और वह हर साल उनकी जयंती 18 नवंबर को उनकी स्मृति में कार्यक्रम आयोजित करते हैं।
लेकिन उनकी स्मृति को सुरक्षित रखने के लिए न तो कोई संग्रहालय है या स्थायी मंडप है न बड़ा कोई केंद्र सरकार का पुरस्कार।
लेकिन फिर में कहूंगा हमारा काम सरकार से मांग करना नहीं है।
यह सरकार को खुद सोचना है।

फ़िल्म समारोह के उद्घाटन पर शंकर महादेवन के फ्यूज़न म्यूज़िक का जिक्र होने पर उन्होंने दो आंखे बारह हाथ के मशहूर गाने ‘ऐ मालिक तेरे बंदे हम’ को याद किया और कहा कि आज ऐसे गाने कहाँ बनते है।
उस गाने में कितना बड़ा मानवीय संदेश छिपा था।

अरविंद, शोभित
वार्ता

नेपोटिज्म

नेपोटिज्म के शिकार हुये थे सैफ अली खान

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान का कहना है कि वह भी नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) के शिकार हो चुके हैं।

‘साइकल

‘साइकल गर्ल’ ज्योति के पिता का किरदार निभायेंगे संजय मिश्रा

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बिहार की बेटी ‘साइकल गर्ल’ ज्योति पर बनने वाली फिल्म में संजय मिश्रा , ज्योति के पिता का किरदार निभाते नजर आयेंगे।

बेलबॉटम

'बेलबॉटम' में अक्षय के साथ काम करेंगी वाणी कपूर

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री वाणी कपूर फिल्म 'बेलबॉटम' में अक्षय कुमार के साथ काम करती नजर आयेंगी।

आलोचनाएं

आलोचनाएं मुझे विचलित नहीं करतीं: पूजा भट्ट

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री-फिल्मकार पूजा भट्ट का कहना है कि आलोचनायें उन्हें विचलित नहीं करती है।

अमिताभ

अमिताभ को पसंद आया ब्रीद का ट्रेलर

मुंबई, 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को अपने पुत्र अभिषेक बच्चन की आने वाली वेब सीरीज ‘ब्रीद 2 इंटू द शैडोज़’ का ट्रेलर बेहद पसंद आया है।

अभिमान

अभिमान को त्याग कर प्रियंका ने शुरू किया हॉलीवुड में सफर

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के साथ ही हॉलीवुड में अपनी पहचान बना चुकी प्रियंका चोपड़ा का कहना है कि हॉलीवुड में जब उन्होंने अपना करियर बनाने का प्रयास किया, तो पहले उन्हें अपने अभिमान को त्यागना पड़ा।

किसी

किसी भी फिल्म को ठुकराने का अफसोस नहीं :करीना

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर का कहना है कि उन्हें किसी भी फिल्म को ठुकराने का अफसोस नहीं है।

संवाद

संवाद अदायगी के बादशाह थे राजकुमार

.. पुण्यतिथि 03 जुलाई  ..
मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) हिन्दी सिनेमा जगत में यूं तो अपने दमदार अभिनय से कई सितारों ने दर्शकों के दिलों पर राज किया लेकिन एक ऐसा भी सितारा हुआ जिसने न सिर्फ दर्शकों के दिल पर राज किया बल्कि फिल्म इंडस्ट्री ने भी उन्हें ..राजकुमार.. माना. वह थे ..संवाद अदायगी के बेताज बादशाह कुलभूषण पंडित उर्फ राजकुमार .. ।

पवन

पवन सिंह की 'घातक' का फर्स्ट लुक आउट

मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) भोजपुरी फिल्म अभिनेता पवन सिंह की आने वाली फिल्म 'घातक' का फर्स्ट लुक आउट हो गया है।

नेपोटिज़्म

नेपोटिज़्म की वजह से फिल्म से बाहर कर दी गयी :प्रियंका

मुंबई 01 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा का कहना है कि नेपोटिज़्म (भाई-भतीजावाद) के कारण वह एक बार फिल्म से बाहर कर दी गयी थी।

संवाद अदायगी के बादशाह थे राजकुमार

संवाद अदायगी के बादशाह थे राजकुमार

.. पुण्यतिथि 03 जुलाई  ..
मुंबई 02 जुलाई (वार्ता) हिन्दी सिनेमा जगत में यूं तो अपने दमदार अभिनय से कई सितारों ने दर्शकों के दिलों पर राज किया लेकिन एक ऐसा भी सितारा हुआ जिसने न सिर्फ दर्शकों के दिल पर राज किया बल्कि फिल्म इंडस्ट्री ने भी उन्हें ..राजकुमार.. माना. वह थे ..संवाद अदायगी के बेताज बादशाह कुलभूषण पंडित उर्फ राजकुमार .. ।

बिंदास अभिनय से पहचान बनायी करिश्मा कपूर ने

बिंदास अभिनय से पहचान बनायी करिश्मा कपूर ने

.जन्मदिन 25 जून .
मुंबई, 25 जून (वार्ता) बॉलीवुड में करिश्मा कपूर को एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने अभिनेत्रियों को फिल्मों में परंपरागत रूप से पेश किये जाने के तरीके को बदलकर अपने बिंदास अभिनय से दर्शको के बीच अपनी खास पहचान बनायी।

image