Wednesday, Apr 1 2020 | Time 21:50 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तब्लीगी जमात में शामिल मौलवी अस्पताल में भर्ती, हालत गंभीर
  • कोरोना मरीज मिलने के बाद रांची के हिंदपीढ़ी इलाके में कर्फ्यू, इलाका सील
  • इटावा जेल में कैदियो के दो गुटों के बीच जबरदस्त संघर्ष,डिप्टी जेलर समेत 30 घायल
  • निजामुद्दीन मरकज में हिस्सा लेने की आशंका में तीन संदिग्ध हिरासत में
  • निजामुद्दीन तब्लीगी जमात में शामिल केरल के सभी का चला पता: विजयन
  • नीतीश ने लोगों को रामनवमी की बधाई दी
  • गुजरात में कोरोना वायरस संक्रमण के नए 13 मामले
  • वायरस किसी धर्म, समुदाय, जाति को नहीं पहचानता : हेमन्त
  • ‘तब्लीगी जमात में शामिल लोगों के संक्रमित होने से देश में बढ़ी दिक्कतें’
  • कोरोना के कारण विम्बलडन रद्द
  • कोरोना के कारण विम्बलडन रद्द
  • कोरोना संक्रमण से निपटने में बिहार सरकार करेगी हरसंभव मदद : नीतीश
  • निजामुद्दीन की घटना चिंता का विषय, कोरोना मानव बम कर तबाही का था षडयंत्र : रॉकी मित्तल
मनोरंजन » फिल्म समीक्षा


शिक्षा प्रणाली पर सवाल उठाती ‘हिंदी मीडियम’

शिक्षा प्रणाली पर सवाल उठाती ‘हिंदी मीडियम’

नयी दिल्ली, 20 मई (वार्ता) सामाजिक सरोकार से जुड़ी फिल्मों को बॉलीवुड में पहचान मिलने लगी है।
ऐसी ही शिक्षा जैसी महत्वपूर्ण मुद्दे से जुड़ी है निर्देशक साकेत चौधरी की फिल्म ‘हिन्दी मीडियम’।
फिल्म में इरफान खान और दीपक डोबरियाल के साथ पाकिस्तानी अदाकारा सबा कमर मुख्य भूमिका में है।
कहानी: यह कहानी दिल्ली की है जहां के चांदनी चौक के बाजार में राज बत्रा (इरफान खान) लहंगे की दुकान चलाता है और उसके पास पैसे की कोई कमी नहीं।
वह पत्नी मीता (सबा कमर) से बहुत प्यार करता है।
दोनों की बेटी है पिया, जिसका एडमिशन मीता किसी निजी अंग्रेजी स्कूल में कराना चाहती है।
मिशन एडमिशन के तहत राज और मीता दिल्ली के बड़े स्कूलाें की खाक छानते हैं और बेटी के एडमिशन के लिये चांदनी चौक छोड़ दिल्ली के पॉश इलाके वसंत विहार में शिफ्ट हो जाते है।
पिया को किसी अच्छे अंग्रेजी माध्यम स्कूल में दाखिला नहीं मिलने पर दोनों गरीबों के लिए आरक्षित कोटे में दाखिले का प्रयास भी करते हैं और सफल हो जाते है।
लेकिन इसके बाद रवि को अपनी गलती का एहसास होता है कि उसने किसी गरीब का हक मारा है।
यहां से फिल्म का ट्रैक बदलता है और यह दिखाया जाता है कि किस तरह अमीर लोग गरीबों का हक छीन रहे हैं और शिक्षा का अधिकार कानून का दुरुपयोग हो रहा है।
निर्देशन : ‘प्यार के साइड इफेक्ट्स’ और ‘शादी के साइड इफेक्ट्स’ जैसी फिल्मों का निर्देशन करने वाले साकेत चौधरी ‘हिन्दी मीडियम’ के जरिये शिक्षा प्रणाली के साइड इफेक्ट्स को लोगों के सामने ला रहे हैं।
अच्छे विषय के साथ न्याय करने में वह कामयाब रहें।
उन से चूक फिल्म के क्लाइमेक्स में हुई जो नाटकीय लगता है।
अभिनय: इरफान खान ऐसे अभिनेता है जिनकी आंखें भी बाेलती हैं और इस फिल्म को देखने के बाद लगा की एक कारोबारी, पिता और पति का किरदार इस शानदार ढंग से शायद ही काेई और निभा पाता।
फिल्म के आखिर में उनका मोनोलॉग सीख देता है।
सबा कमर पति को अंगुलियों पर नचाने वाली पत्नी के किरदार में खूब जमी हैं।
दीपक डोबरियाल ने गरीब इंसान के किरदार में प्रभावित किया है।
काउंसलर की भूमिका में तिलोत्तमा शोम उपस्थिति दर्ज कराने में कामयाब रहीं।
अमृता सिंह, नेहा धूपिया और संजय सूरी के लिये फिल्म में ज्यादा कुछ नहीं था।
गीत संगीत: फिल्म में गाने कम हैं, आतिफ असलम की आवाज में ‘हूर’ सुकून देता है ।
गुरु रंधावा का ‘सूट-सूट’ पार्टी नंबर है जो रिलीज से पहले ही हिट हो चुका है।
देखे या ना देखें : नया आैर आम लोंगों से जुड़ा विषय होने के कारण हम इस फिल्म को देखने की सलाह देंगें।
फिल्म सिर्फ भाषा ही नहीं बल्कि शिक्षा प्रणाली की दूसरी खामियों को भी उजागर करती है।
फिल्म की कमजोर कड़ी इसका आखिरी हिस्सा है जो सच्चाई की जगह नाटकीय लगता है।
पूरी फिल्म दर्शकों को बांधे रखती है लेेकिन आखरी हिस्से में यह जुड़ाव थोड़ा कम हो जाता है।
रेटिंग : शानदार अभिनय इस फिल्म को और भी दमदार बनाता है जिससे दूसरी खामियां ढक जाती है ।
फिल्म को हमारी तरफ से पांच में से साढे तीन अंक (3.5*/5*) अमित, यामिनी वार्ता

कोरोना

कोरोना वायरस के विरूद्ध जंग में आगे आयी माधुरी-करीना

मुंबई 01 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित, करीना कपूर और निर्देशक रोहित शेट्टी ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ लड़ाई में डोनेशन दिया है।

निर्देशक

निर्देशक बनना चाहते थे अजय देवगन

..जन्मदिन 02 अप्रैल ..
मुम्बई 01 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन ने अपने दमदार अभिनय से सिने प्रेमियों को अपना दीवाना बनाया है लेकिन कम लोगों को पता होगा कि वह पहले निर्देशक बनना चाहते थे।

अप्रैल

अप्रैल फूल के नाम से बनायी गयी थी फिल्म

मुंबई 01 अप्रैल (वार्ता) पूरी दुनिया में मूर्ख दिवस या अप्रैल फूल एक अप्रैल को मनाया जाता है।

मधुबाला

मधुबाला का किरदार निभाना चाहती हैं कंगना

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत सिल्वर स्क्रीन पर बेपनाह हुस्न की मल्लिका मधुबाला का किरदार निभाना चाहती हैं।

कैटरीना

कैटरीना कैफ बनेंगी सुपरहीरो

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड की बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ सिल्वर स्क्रीन पर सुपरहीरो का किरदार निभाती नजर आ सकती हैं।

विक्की,

विक्की, सारा ने दिये पीएमकेयर फंड में डोनेशन

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल और अभिनेत्री सारा अली खान ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ लड़ाई में पीएम केयर्स फंड में डोनेशन दिया है।

लता

लता ने महाराष्ट्र मुख्यमंत्री राहत कोष में दिये 25 लाख

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने कोरोना वायरस (कोविड 19) से निपटने के लिये महाराष्ट्र मुख्यमंत्री राहत कोष में 25 लाख रूपये योगदान दिया है।

कोरोना

कोरोना : मदद के लिए आगे आए निरहुआ

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ी जा रही जंग में योगदान देते हुए पीएम केयर्स फंड में एक फिल्म की पूरी पारिश्रमिक देने का निर्णय लिया है।

प्रियंका

प्रियंका चोपड़ा ने यूनिसेफ और पीएम केयर्स फंड में दिया डोनेशन

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और उनके पति निक जोनास ने कोराेना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ जारी लड़ाई में अपना योगदान देते हुए यूनिसेफ और पीएम केयर्स फंड में डोनेशन दिया है।

पीएम-सीएम

पीएम-सीएम फंड में नाना पाटेकर ने दिया डोनेशन

मुंबई 31 मार्च (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर ने कोरोना वायरस (कोविड 19) से निपटने के लिये पीएम-सीएम राहत कोष में डोनेशन देने का निर्णय लिया है।

दिलकश अदाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया नंदा ने

दिलकश अदाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया नंदा ने

..पुण्यतिथि 25 मार्च के अवसर पर ..
मुम्बई 25 मार्च (वार्ता)बॉलीवुड में अपनी दिलकश अदाओं से अभिनेत्री नंदा ने लगभग तीन दशक तक दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया लेकिन बहुत कम लोगो को पता होगा कि वह फिल्म अभिनेत्री न बनकर सेना में काम करना चाहती थीं ।

दिलकश आवाज से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रही है अलका याज्ञनिक

दिलकश आवाज से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रही है अलका याज्ञनिक

.. जन्मदिन 20 मार्च के अवसर पर पर ..
मुंबई 19 मार्च (वार्ता) आकाशवाणी कोलकाता से अपने करियर की शुरूआत करके शोहरत की बुलंदियों तक पहुंचने वाली बॉलीवुड की सुप्रसिद्ध पार्श्वगायिका अलका याज्ञनिक अपने गानों से आज भी श्रोताओं के दिलों पर राज कर रही हैं।

image