Wednesday, Jul 17 2019 | Time 09:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अफगानिस्तान में हथियारों का जखीरा बरामद
  • पेरू के पूर्व राष्ट्रपति टोलेडो गिरफ्तार
  • लखनऊ में संदिग्ध हालत में निजी अस्पताल के प्रबंधक की मृत्यु
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 18 जुलाई)
  • लखनऊ में पिता ने जमीन पर पटककर कर दी आठ माह के पुत्र की हत्या
  • 100 से अधिक एफ-35 लड़ाकू विमान नहीं खरीद सकता तुर्की : ट्रम्प
  • मिसाइल कार्यक्रम पर नहीं होगी कोई बातचीत: ईरान
  • नोट्रे डेम कैथेड्रल के पुनर्निर्माण पर फ्रांस की संसद ने पारित किया बिल
  • अमेरिका बिना किसी पूर्व शर्त के ईरान से बातचीत के लिए तैयार : ओर्टागुस
  • ईरानी तेल टैंकर को हिरासत में लेने पर खेमनेई ने की ब्रिटेन की आलोचना
मनोरंजन » जानीमानी हस्तियों का जन्म दिन


अपने बिंदास अंदाज से दर्शको को दीवाना बनाया नीतू सिंह ने

अपने बिंदास अंदाज से दर्शको को दीवाना बनाया नीतू सिंह ने

जन्मदिन 08 जुलाई के अवसर पर ..
मुंबई 07 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड में नीतू सिंह को एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने सत्तर और अस्सी के दशक में अपने बिंदास अंदाज और दमदार अभिनय से सिने प्रेमियों को दीवाना बनाया।

08 जुलाई 1958 को जन्मी नीतू सिंह को नृत्य में काफी रूचि थी।
उनकी रूचि को देखते हुये उनकी मां राजी सिंह ने उसे प्रसिद्ध अभिनेत्री वैजयंती माला के नृत्य स्कूल में नृत्य सीखने की अनुमति दे दी।
नृत्य सीखने के दौरान वैजयंती माला उनके नृत्य करने के अंदाज से काफी प्रभावित हुयीं और अपनी फिल्म ..सूरज ..में बाल कलाकार के रूप में काम करने की उनसे पेशकश की जिसे उन्होंने सहर्ष स्वीकार कर लिया।

साठ के दशक में नीतू सिंह ने कई फिल्मों में बाल कलाकार के रूप में अभिनय किया।
इनमें 1968 में प्रदर्शित फिल्म .दो कलियां..खासतौर पर उल्लेखनीय है।
इस फिल्म में उनकी दोहरी भूमिका को सिने प्रेमी शायद ही कभी भूल पायें।
फिल्म में उन पर फिल्माया गीत ..बच्चे मन के सच्चे .. दर्शकों और श्रोताओं के बीच आज भी लोकप्रिय है।
नीतू सिंह ने अभिनेत्री के रूप में अपने सिने कैरियर की शुरूआत 1973 में प्रदर्शित फिल्म ..रिक्शावाला .. से की।
इस फिल्म में उनके नायक के रूप में रणधीर कपूर थे।
कमजोर पटकथा और निर्देशन के कारण फिल्म टिकट खिड़की पर असफल साबित हुयी।

नीतू सिंह को प्रारंभिक सफलता दिलाने में निर्माता.निर्देशक नासिर हुसैन की 1973 में प्रदर्शित फिल्म ..यादों की बारात .. का अहम स्थान है।
इस फिल्म में उन्हें एक छोटी सी भूमिका निभाने का अवसर मिला।
फिल्म में उनपर फिल्माया गीत ..लेकर हम दीवाना दिल .. उन दिनों श्रोताओं के बीच क्रेज बन गया था।
आज भी यह गीत श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर देता है।
.यादो की बारात .. की सफलता के बावजूद नीतू सिंह फिल्म इंडस्ट्री में लगभग दो वर्ष मुंबई में संघर्ष करती रहीं।
आश्वासन तो सभी देते लेकिन उन्हें अच्छी फिल्मों में काम करने का अवसर कोई नहीं देता था।
इस बीच नीतू सिंह ने शतरंज के मोहरे. आशियाना और .हवस जैसी बी और सी ग्रेड वाली फिल्मों में अभिनय किया लेकिन इन फिल्मों से उन्हें कोई खास फायदा नहीं पहुंचा।

वर्ष 1975 में प्रदर्शित फिल्म ..खेल खेल में.. मुख्य अभिनेत्री के रूप में नीतू सिंह के सिने कैरियर की पहली सुपरहिट फिल्म साबित हुयी।
इस फिल्म में उनके नायक की रूप में ऋषि कपूर थे।
युवा प्रेम कथा पर आधारित इस फिल्म को दर्शकों के काफी पसंद किया।
फिल्म की सफलता के साथ ही नीतू सिंह अभिनेत्री के रूप में फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो गयी।
वर्ष 1975 में ही नीतू सिंह को दीवार और रफूचक्कर जैसी सुपरहिट फिल्मों में भी काम करने का अवसर मिला।
फिल्म दीवार पूरी तरह अमिताभ बच्चन और शशि कपूर पर आधारित थी जबकि फिल्म रफूचक्कर में उन्हें एक बार फिर से ऋषि कपूर के साथ काम करने का अवसर मिला।
युवा प्रेम कथा पर आधारित यह फिल्म भी टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी ।

नीतू सिंह की जोडी अभिनेता ऋषि कपूर के साथ काफी पसंद की गयी।
नीतू सिंह और ऋषि कपूर की जोड़ी सबसे पहले ..खेल खेल में.. पसंद की गयी।
बाद में इस जोडी ने रफूचक्कर, जहरीला इंसान, जिंदादिल, कभी.कभी, अमर अकबर एंथनी, अनजाने, दुनिया मेरी जेब में, झूठा कहीं का, धन दौलत और दूसरा आदमी आदि फिल्मों में युवा प्रेम की भावनाओं को निराले अंदाज में पेश किया।

अस्सी के दशक में नीतू सिंह फिल्म इंडस्ट्री की चोटी की अभिनेत्रियों में शुमार की जाती थी।
इस दौरान उन्हें कई फिल्मों में काम करने के लिये कई प्र्रस्ताव मिले लेकिन उन्होंने इन सभी प्रस्तावो को ठुकरा दिया और अभिनेता ऋषि कपूर से शादी करके फिल्म इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया।
वर्ष 1982 में प्रदर्शित फिल्म ‘तीसरी आंख’ अभिनेत्री के रूप में नीतू सिंह की अंतिम फिल्म साबित हुयी।
नीतू सिंह ने कई फिल्मों में अपने दमदार अभिनय से दर्शकों का दिल जीता लेकिन दुर्भाग्य से वह किसी भी फिल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्म फेयर से सम्मानित नहीं की गयी।
हालांकि 1979 में प्रदर्शित फिल्म ‘काला पत्थर’ के लिये उन्हें सवश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार के लिये अवश्य नामांकित किया गया।

नीतू सिंह ने दो दशक लंबे सिने कैरियर में लगभग 60 फिल्मों मे काम किया।
बहुमुखी प्रतिभा की धनी नीतू सिंह ने कई फिल्मों में कॉस्टयूम डिजाइनर के तौर पर भी काम किया।
इन फिल्मों में नगीना, खोज, बड़े घर की बेटी, अमीरी गरीबी, श्रीमान आशिक, दरार आदि प्रमुख है।
नीतू सिंह फिर से नये जोशो खरोश के साथ फिल्म इंडस्ट्री में सक्रिय हुयी है।
वर्ष 2013 में प्रदर्शित फिल्म ‘बेशर्म’ में नीतू सिंह ने अपने पुत्र रणबीर कपूर और पति ऋषि कपूर के साथ काम किया है।

 

सुपर

सुपर 30 में काम करने का अनुभव शानदार : ऋतिक

पटना 16 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के माचो मैन ऋतिक रोशन का कहना है कि फिल्म सुपर-30 में काम करने का अनुभव शानदार रहा और फिल्म की कहानी काफी प्रेरणादायक है, जो लोगों के दिल को छूएगी
ऋतिक रोशन की फिल्म सुपर-30 हाल ही में प्रदर्शित हुयी है।

स्टारडम

स्टारडम लंबे समय तक कायम रखना चुनौती:सलमान

मुंबई 13 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान स्टारडम को लंबे समय तक कायम रखना चुनौती मानते हैं।

सफलता

सफलता की गारंटी कोई नहीं दे सकता : कैटरीना

मुंबई 16 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड की बार्बी गर्ल कैटरीना कैफ का कहना है कि सफलता की गारंटी कोई नहीं दे सकता है और असफलता को दिल से नहीं लगाना चाहिये।

कबीर

कबीर सिंह ने 250 करोड़ की कमाई की

मुंबई 13 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो शाहिद कपूर की फिल्म ‘कबीर सिंह’ ने बॉक्स ऑफिस पर 250 करोड़ से अधिक की कमाई कर ली है।

लाल

लाल सिंह चड्ढा में चार अलग-अलग लुक में दिखेंगे आमिर -करीना

मुंबई 16 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान और करीना कपूर आने वाली फिल्म लाल सिंह चड्ढा में चार अलग अलग लुक्स में दिखेंगे।

कव्वाली

कव्वाली को संगीतबद्ध करने के महारथी थे रौशन

..जन्मदिन 14 जुलाई  ..
मुंबई 13 जुलाई(वार्ता) हिंदी फिल्मों में जब कभी कव्वाली का जिक्र होता है संगीतकार रौशन का नाम सबसे पहले लिया जाता है।

गुलाबो

गुलाबो सिताबो में प्रोस्थेटिक को लेकर परेशान हैं अमिताभ बच्चन

मुंबई 16 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन आने वाली फिल्म गुलाबो सिताबो में प्रोस्थेटिक को लेकर परेशान हैं।

दिलकश

दिलकश अदा से दीवाना बनाया कैटरीना ने

..जन्मदिन 16 जुलाई के अवसर पर ..
मुंबई 15 जुलाई(वार्ता) बॉलीवुड में कैटरीना कैफ एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार की जाती है जिन्होंने अपनी दिलकश अदाओं से लगभग एक दशक से दर्शकों को अपना दीवाना बनाया हुआ है।

दर्शकों

दर्शकों को अपना दीवाना बनाया विमल राय ने

..जन्मदिवस 12 जुलाई ..
मुंबई 12 जुलाई (वार्ता) विमल राय को एक ऐसे फिल्मकार के रूप में याद किया जाता है जिन्होंने पारिवारिक सामाजिक और साफ सुथरी फिल्में बनाकर लगभग तीन दशक तक सिने प्रेमियों के दिल पर अपनी अमिट छाप छोड़ी है।

बंगला

बंगला सिनेमा को विशिष्ट पहचान दिलाई कानन देवी ने

..पुण्यतिथि 17 जुलाई के अवसर पर..
मुंबई 16 जुलाई (वार्ता) भारतीय सिनेमा जगत में कानन देवी का नाम एक ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने न सिर्फ फिल्म निर्माण की विद्या से बल्कि अभिनय और पार्श्वगायन से भी दर्शकों के बीच अपनी खास पहचान बनायी।

सुपर 30 में काम करने का अनुभव शानदार : ऋतिक

सुपर 30 में काम करने का अनुभव शानदार : ऋतिक

पटना 16 जुलाई (वार्ता) बॉलीवुड के माचो मैन ऋतिक रोशन का कहना है कि फिल्म सुपर-30 में काम करने का अनुभव शानदार रहा और फिल्म की कहानी काफी प्रेरणादायक है, जो लोगों के दिल को छूएगी
ऋतिक रोशन की फिल्म सुपर-30 हाल ही में प्रदर्शित हुयी है।

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

..जन्मदिवस 29 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 28 अगस्त(वार्ता)किंग ऑफ पॉप माइकल जैक्सन को ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पॉप संगीत की दुनिया को पूरी तरह बदलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

बंगला सिनेमा को विशिष्ट पहचान दिलाई कानन देवी ने

बंगला सिनेमा को विशिष्ट पहचान दिलाई कानन देवी ने

..पुण्यतिथि 17 जुलाई के अवसर पर..
मुंबई 16 जुलाई (वार्ता) भारतीय सिनेमा जगत में कानन देवी का नाम एक ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने न सिर्फ फिल्म निर्माण की विद्या से बल्कि अभिनय और पार्श्वगायन से भी दर्शकों के बीच अपनी खास पहचान बनायी।

image