Thursday, Oct 21 2021 | Time 01:53 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


किसानों की आय दोगुनी करने में पशु चिकित्सक करें मदद: हरिचंदन

विजयवाड़ा 28 अगस्त (वार्ता) आंध्र प्रदेश के राज्यपाल विश्व भूषण हरिचंदन ने ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों की आय को दोगुना करने में पशु चिकित्सकों की भूमिका पर जोर देते हुए कहा कि पशुधन क्षेत्र देश की अर्थव्यवस्था में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
श्री हरिचंदन ने कहा कि पशुपालन भारतीय कृषि का एक अभिन्न अंग है जो ग्रामीण आबादी के दो-तिहाई से अधिक की आजीविका का साधन है। राज्यपाल ने शनिवार को राजभवन से वर्चुअल मोड में तिरुपति में आयोजित श्री वेंकटेश्वर पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के 10वें दीक्षांत समारोह उक्त बात कही।
राज्यपाल ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे और सीमांत किसानों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए पशु चिकित्सक पेशेवर तथा नैतिक रूप से समुदाय को जागरूक करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने स्टार्ट-अप उद्यमों को निवेश के अवसर प्रदान करके ‘स्टार्ट-अप इंडिया’ कार्यक्रम शुरू किया है और उद्यमिता एवं रोजगार सृजन को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन की पेशकश कर रही है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के स्नातक छात्रों इन अवसरों का पता लगाएं और उद्यमी बनकर रोजगार सृजित करना चाहिए।
राज्यपाल ने कहा कि आंध्र प्रदेश देश में मत्स्य पालन क्षेत्र में पहले स्थान पर है और राज्य के सकल घरेलू उत्पाद में 7.4 फीसदी का योगदान देता है तथा प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रूप से 14.5 लाख लोगों को रोजगार देता है। उन्होंने कहा कि मत्स्य पालन क्षेत्र के महत्व को देखते हुए आंध्र प्रदेश सरकार ने पश्चिम गोदावरी जिले में अलग मत्स्य विज्ञान विश्वविद्यालय खोलने की घोषणा की है।
नयी दिल्ली स्थित कृषि वैज्ञानिक भर्ती बोर्ड के सदस्य एवं पूर्व अध्यक्ष डॉ. ए.के. श्रीवास्तव ने कहा कि देश में मत्स्य पालन क्षेत्र 10 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है और भारत दुनिया में इस क्षेत्र में तीसरे स्थान पर है और आंध्र प्रदेश देश में मत्स्य पालन के क्षेत्र में पहले स्थान पर है।
संजय, उप्रेती
वार्ता
More News
कुमाऊं में आपदा का कहर: 49 लोगों की मौत, 14 घायल

कुमाऊं में आपदा का कहर: 49 लोगों की मौत, 14 घायल

20 Oct 2021 | 9:27 PM

नैनीताल, 20 अक्टूबर (वार्ता) उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में आयी आपदा में अभी तक 49 लोगों की मौत हो गयी है और 14 लोग घायल हुई है जबकि छह लोग लापता हैं।

see more..
उत्तराखंड आपदा: मरने वालों की संख्या 52 हुई, पांच अब भी लापता

उत्तराखंड आपदा: मरने वालों की संख्या 52 हुई, पांच अब भी लापता

20 Oct 2021 | 8:48 PM

देहरादून 20 अक्टूबर (वार्ता) उत्तराखंड में रविवार सुबह से मंगलवार तक लगभग 48 घण्टे हुई अतिवृष्टि, बाढ़ और भूस्खलन की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है, जबकि पांच व्यक्ति अब भी लापता है।

see more..
image