Wednesday, Jan 23 2019 | Time 18:52 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • किसान सभा का 25 फरवरी से चीनी मिलों के बाहर धरने की घोषणा
  • वर्षा ,ओलावृष्टि के दौरान बिजली गिरने से मवेशी झुलसे
  • हजारे ने लोकपाल गठन के लिए कोविंद को लिखा पत्र
  • जनता को गुमराह कर रहा है विपक्ष:नायडू
  • गणतंत्र दिवस पर बंद रहेंगे कुछ मेट्रो स्टेशन
  • श्री हजूर साहब के प्रबंधन में दख़लअंदाजी बर्दाश्त नहीं: लोंगोवाल
  • विराट को आखिरी दो वनडे और ट्वंटी-20 सीरीज से विश्राम
  • दृष्टि/नेत्रहीनों को भारतीय मुद्रा की पहचान हेतु आईआईटी राेपड़ ने लाँच की एंड्रायड ऐप ‘रोशनी‘
  • फिल्म निर्माण को बढ़ावा देकर रोजगार सृजन प्राथमिकता : रघुवर
  • प्रियंका को लाकर कांग्रेस ने राहुल की नाकामी स्वीकारी : भाजपा
  • वनवासियों का अभियान चलाकर राजस्व रिकार्डों में दर्ज हो नाम- भूपेश
  • ‘करतारपुर कॉरिडोर मसले पर भारत ने पाकिस्तान को भेजा निमंत्रण’
  • करतारपुर गलियारा परियोजना धीमी प्रगति के लिए कैप्टन सरकार जिम्मेदार: छीना
  • बारामूला मुठभेड़: तीन आंतकवादी ढेर, अभियान जारी
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच Share

शंकर और जयकिशन के बीच भी हुयी थी अनबन

शंकर और जयकिशन के बीच भी हुयी थी अनबन

. जयकिशन की पुण्यतिथि 12 सितंबर
मुंबई 11 सितंबर (वार्ता) भारतीय सिनेमा जगत में सर्वाधिक कामयाब संगीतकार जोड़ी शंकर -जयकिशन ने अपने सुरों के जादू से श्रोताओं को कई दर्शकों तक मंत्रमुग्ध किया और उनकी जोड़ी एक मिसाल के रूप में ली जाती थी लेकिन एक वक्त ऐसा भी आया जब दोनो के बीच अनबन हो गयी थी ।

शंकर और जयकिशन ने एक दूसरे से वादा किया था कि वह कभी किसी को नहीं बतायेंगे कि धुन किसने बनायी है लेकिन एक बार जयकिशन इस वादे को भूल गये और मशहूर सिने पत्रिका फिल्मफेयर के लेख में बता दिया कि फिल्म संगम के गीत.. ये मेरा प्रेम पत्र पढ़कर कि तुम नाराज न होना.. की धुन उन्होंने बनाई थी ।
इस बात से शंकर काफी नाराज भी हुये।
बाद में पार्श्वगायक मोहम्मद रफी के प्रयास से शंकर और जयकिशन के बीच हुये मतभेद को कुछ हद तक कम किया जा सका ।

शंकर सिंह रघुवंशी का जन्म 15 अक्तूबर 1922 को पंजाब में हुआ था।
बचपन के दिनों से ही शंकर संगीतकार बनना चाहते थे और उनकी रूचि तबला बजाने में थी।
उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा बाबा नासिर खानसाहब से ली थी ।
इसके साथ ही उन्होंने हुस्न लाल भगत राम से भी संगीत की शिक्षा ली थी ।
अपने शुरूआती दौर मे शंकर ने सत्यनारायण और हेमावती द्धारा संचालित एक थियेटर ग्रुप में काम किया ।
इसके साथ ही वह पृथ्वी थियेटर के
सदस्य भी बन गये जहां वह तबला बजाने का काम किया करते थे ।
इसके साथ ही पृथ्वी थियेटर के नाटकों मे वह छोटे मोटे रोल भी किया करते थे ।

जयकिशन का पूरा नाम जयकिशन दयाभाई पांचाल था।
उनका जन्म चार नवम्बर 1929 को गुजरात के वंसाडा में हुआ था ।
जयकिशन हारमोनियम बजाने में निपुण थे और उन्होंने वाडीलालजी.प्रेम शंकर नायक और विनायक तांबे से शास्त्रीय संगीत की शिक्षा ली थी हलांकि वह अभिनेता बनना चाहते थे।
अभिनेता बनने का सपना लिये जयकिशन ने मुंबई का रूख किया जहां वह एक फैक्ट्री में टाइमकीपर..समयपाल.. की नौकरी करने लगे ।
उसी दौरान उनकी मुलाकात शंकर से हुयी।
शंकर की सिफारिश पर जयकिशन को पृथ्वी थियेटर में हारमोनियम बजाने के लिये नियुक्त कर लिया गया ।

वर्ष 1948 में राजकपूर की पहली फिल्म आग में शंकर-जयकिशन ने संगीतकार राम गांगुली के सहायक के तौर पर काम किया।
बाद में राजकपूर और राम गांगुली के बीच किसी बात को लेकर मतभेद हो गया।
उन दिनों राजकपूर अपनी नयी फिल्म बरसात की तैयारी कर रहे थे।
राजकपूर ने शंकर जयकिशन को मिलने का न्योता भेजा ।
राज कपूर शंकर जयकिशन के संगीत बनाने के अंदाज से काफी प्रभावित हुये और उन्होंने शंकर जयकिशन से अपनी फिल्म बरसात में संगीत देने की पेशकश की ।

फिल्म बरसात मे शंकर-जयकिशन की जोड़ी ने जिया बेकरार है और बरसात में हमसे मिले तुम सजन जैसे सुपरहिट संगीत दिया ।
फिल्म बरसात की कामयाबी के बाद शंकर जयकिशन बतौर संगीतकार अपनी पहचान बनाने मे सफल हो गये ।
इसे महज एक संयोग ही कहा जायेगा कि फिल्म बरसात से ही गीतकार शैलेन्द्र और हसरत जयपुरी ने भी अपने सिने कैरियर की शुरूआत की थी ।
फिल्म बरसात की कामयाबी के बाद राजकपूर हसरत जयपुरी और शंकर जयकिशन की जोड़ी ने कई फिल्मो मे एक साथ काम किया ।

शंकर जयकिशन की जोड़ी गीतकार हसरत जयपुरी और शैलेन्द्र के साथ काफी पसंद की गयी।
शंकर .जयकिशन सर्वाधिक नौ बार सर्वश्रेष्ठ संगीतकार के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
शंकर की जोड़ी जयकिशन के साथ वर्ष 1971 तक कायम रही।
12 सितंबर 1971 को जयकिशन इस दुनिया को अलविदा कह गये।
अपने मधुर
संगीत से श्रोताओं को भावविभोर करने वाले संगीतकार शंकर भी 26 अप्रैल 1987 को इस दुनिया को अलविदा कह
गये ।


वार्ता

करीना

करीना की दीवानी हैं सारा

मुंबई 23 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री सारा अली खान का कहना है कि वह बचपन से ही करीना कपूर की दीवानी रही हैं।

दूसरे

दूसरे शो मैन के रूप में पहचान बनायी सुभाष घई ने

..जन्मदिन 24 जनवरी के अवसर पर..
मुंबई 23 जनवरी(वार्ता)बॉलीवुड में सुभाष घई को एक ऐसे फिल्मकार के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने अपनी फिल्मों के जरिये राजकपूर के बाद दूसरे शो मैन के रूप में दर्शको के दिलों में खास पहचान बनायी है।

अक्षय

अक्षय के गाने पर थिरकेंगे कार्तिक आर्यन

मुंबई 19 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन ‘खिलाड़ी’ कुमार अक्षय कुमार के गाने पर थिरकने जा रहे हैं।

शाहिद

शाहिद को तीन फिल्मों में काम करने का पछतावा

मुंबई 22 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता शाहिद कपूर का कहना है कि उन्हें तीन फिल्मों में काम करने का पछतावा है।

नम्रता

नम्रता शिरोड़कर 47 वर्ष की हुयी

मुंबई 22 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री और पूर्व मिस इंडिया नम्रता शिरोड़कर मंगलवार को 47 वर्ष की हो गयी।

टीवी

टीवी पर काम करती रहेगी अंकिता लोखंडे

मुंबई 19 जनवरी (वार्ता) टीवी की जानी मानी अभिनेत्री अंकिता लोखंडे का कहना है कि वह टीवी पर काम करती रहेगी।

सोन

सोन चिड़ैया व लुका छिपी में होगी बॉक्स ऑफिस पर टक्कर

मुंबई 23 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म सोन चिडै़या और कार्तिक आर्यन की फिल्म लुका छिपी की बॉक्स ऑफिस पर टक्कर होने जा रही है।

सूर्यवंशी

सूर्यवंशी में काम नही कर रही है कैटरीना : रोहित शेट्टी

नई दिल्ली, 19 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड के इंटरटेनर नंबर वन निर्देशक रोहित शेट्टी का कहना है कि उनकी आने वाली फिल्म सूर्यवंशी में कैटरीना कैफ काम नही कर रही है।

कलाकार

कलाकार गाये तो इससे बेहतर नहीं हो सकता : रहमान

मुंबई 23 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड के जाने माने संगीतकार और गायक ए आर रहमान का कहना है कि यदि कलाकार फिल्मों में खुद गाने गायें तो इससे बेहतर कुछ नही हो सकता है।

अमिताभ-अनिल

अमिताभ-अनिल और गोविंदा को आदर्श मानते हैं रणवीर सिंह

मुंबई 19 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता रणवीर सिंह का कहना है कि वह अमिताभ बच्चन ,अनिल कपूर और गोविंदा को अपना आदर्श मानते हैं।

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

पॉप गायिकी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलायी माइकल जैक्सन ने

..जन्मदिवस 29 अगस्त के अवसर पर ..
मुंबई 28 अगस्त(वार्ता)किंग ऑफ पॉप माइकल जैक्सन को ऐसी शख्सियत के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पॉप संगीत की दुनिया को पूरी तरह बदलकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनायी है।

माय वर्जिन डायरी डिजिटल प्लेटफार्म पर मचा रही धूम

माय वर्जिन डायरी डिजिटल प्लेटफार्म पर मचा रही धूम

नयी दिल्ली 25 मार्च (वार्ता) दिल्ली विश्वविद्यालय के हिन्दू कॉलेज के छात्रों की जिंदगी पर आधारित फिल्म माय वर्जिन डायरी डिजिटल प्लेटफार्म जिओ सिनेमा, एयरटेल मूवीज, बिगफ्लिक्स, चिल्क्स, हंगामा मूवी, नेट्टीवुड आदि के जरिये वैश्विक स्तर पर धूम मचा रही है।

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

दिल्ली में भी होगा फिल्म उद्योग, डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह आरंभ

नयी दिल्ली 15 जनवरी (वार्ता) दिल्ली में भी फिल्म उद्योग स्थापित करने के मकसद से पहले डियोरामा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह एवं विपणन 2019 की कल रात यहां देश-विदेश के फिल्मी जगत के लोगों की मौजूदगी में शुरूआत हुयी।

मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया..

मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया..

(पुण्यतिथि 6 जनवरी के अवसर पर )
मुंबई 05 जनवरी (वार्ता)...मैं जिंदगी का साथ निभाता चला गया..
हर फ्रिक को धुंए में उड़ाता चला गया ..
अपने संगीतबद्ध गीतों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने वाले महान
संगीतकार जयदेव का अपनी जिंदगी के प्रति नजरिया कुछ ऐसा ही था।

दूसरे शो मैन के रूप में पहचान बनायी सुभाष घई ने

दूसरे शो मैन के रूप में पहचान बनायी सुभाष घई ने

..जन्मदिन 24 जनवरी के अवसर पर..
मुंबई 23 जनवरी(वार्ता)बॉलीवुड में सुभाष घई को एक ऐसे फिल्मकार के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने अपनी फिल्मों के जरिये राजकपूर के बाद दूसरे शो मैन के रूप में दर्शको के दिलों में खास पहचान बनायी है।

image