Wednesday, Apr 8 2020 | Time 13:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • स्माइल फाउंडेशन ने किया चित्रकला परियोजना का आयोजन
  • कोरोना वायरस से जंग में अजीत ने किया 1 25 करोड़ दान
  • छत्तीसगढ़ में पिछले चार दिनों कोरोना संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं
  • गृह मंत्रालय ने राज्यों से आवश्यक वस्तु अधिनियम लागू करने को कहा
  • 60 हजार दिहाड़ी मजदूर की मदद करेंगे अर्जुन कपूर
  • 1 2 लाख लोगों को खाना मुहैया करवाएंगे ऋतिक रौशन
  • स्मार्ट शहरों में कोरोना से निपटने में प्रौद्योगिकी का प्रयोग
  • प्रेमी युगल ने गले में फंदा लगाकर आत्महत्या की
  • गुजरात में कोरोना के चार नए मामले, दो की मौत
  • कश्मीर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ शुरू
  • कोरोना को लेकर भारत की नीति सही दिशा में: यूएनइस्केप
  • भोपाल में आज कोरोना संक्रमित 8 नए मरीज मिले, प्रभावितों की संख्या 91 हुयी
  • उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या 32 हुई
  • द कोरिया में 10384 कोरोना संक्रमित,200 की मौत
  • मोदी, शाह, राजनाथ ने हनुमान जयंती पर दी बधाई
मनोरंजन » कला एवं रंगमंच


संगीत के जादू से लोगों को दीवाना बनाया रवि ने

संगीत के जादू से लोगों को दीवाना बनाया रवि ने

मुंबई 06 मार्च (वार्ता) अपनी मधुर संगीत लहरियों से लगभग चार दशक तक श्रोताओं को दीवाना बनाने वाले रवि का नाम एक ऐसे संगीतकार के रूप में याद किया जाता है जिनके संगीतबद्ध गीत को सुनकर श्रोताओं के दिल से बस एक ही आवाज निकलती है ..जो भी हो तुम खुदा की कसम लाजवाब हो ..
संगीतकार रवि का जन्म 03 मार्च 1926 को हुआ था।
उनका मूल नाम रवि शंकर शर्मा था।
बचपन के दिनों से ही रवि का रुझान संगीत की ओर था और वह पार्श्वगायक बनना चाहते थे हालांकि उन्होंने किसी उस्ताद से संगीत की शिक्षा नही ली थी।
पचास के दशक में बतौर पार्श्वगायक बनने की तमन्ना लिये रवि मुंबई आ गये।
मुंबई में रवि की मुलाकात निर्माता-निर्देशक देवेन्द्र से हुयी जो उन दिनों अपनी फिल्म ..वचन .. के लिए संगीतकार की तलाश कर रहे थे।
देवेन्द्र ने रवि की प्रतिभा को पहचान उन्हें अपनी फिल्म ..वचन ..में बतौर संगीतकार काम करने का मौका दिया।
अपनी पहली ही फिल्म वचन में रवि ने दमदार संगीत देकर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया ।

वर्ष 1955 में प्रदर्शित फिल्म ..वचन ..में गायिका आशा भोंसले की आवाज में रचा बसा यह गीत ..चंदा मामा दूर के, पुआ पकाये गुर के ..उन दिनों काफी सुपरहिट हुआ और आज भी बच्चों के बीच काफी शिद्दत के साथ सुने जाते हैं।
फिल्म वचन की सफलता के बाद रवि कुछ हद तक अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो गये।
अपने वजूद को तलाशते रवि को फिल्म इंडस्ट्री में सही मुकाम पाने के लिये लगभग पांच वर्ष इंतजार करना पड़ा।
इस बीच उन्होंने अलबेली. प्रभु की माया,अयोध्यापति, नरसी भगत, देवर भाभी, एक साल, घर-संसार, मेंहदी जैसी कई दोयम दर्जे की फिल्मों के लिये संगीत दिया लेकिन इनमें से कोई फिल्म टिकट खिड़की पर सफल नहीं हुई ।

रवि की किस्मत का सितारा वर्ष 1960 में प्रदर्शित निर्माता- निर्देशक गुुदत्त की क्लासिक फिल्म चौदहवीं का चांद से चमका।
बेहतरीन गीत, संगीत और अभिनय से सजी इस फिल्म की कामयाबी ने रवि को बतौर संगीतकार फिल्म इंडस्ट्री में स्थापित कर दिया।
आज भी इस फिल्म के सदाबहार गीत दर्शकों और श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर देते हैं।
..चौदहवीं का चांद हो या आफताब हो .बदले बदले मेरे सरकार नजर आते है जैसे फिल्म के इन मधुर गीतों की गूंज आज भी बरकरार है ।

फिल्म चौदहवीं का चांद की सफलता के बाद रवि को बड़े बजट की कई अच्छी फिल्मों के प्रस्ताव मिलने शुरू हो गये ।
जिनमें घर की लाज,घूंघट,घराना,चाइनाटाउन,राखी,भरोसा,गृहस्थी,गुमराह जैसी बड़े बजट की फिल्में शामिल है ।
इन फिल्मों की सफलता के बाद रवि ने सफलता की नयी बुलंदियों को छुआ और एक से बढकर एक संगीत देकर श्रोताओं को मंत्रमुंग्ध कर दिया ।

वर्ष 1965 रवि के सिने करियर का अहम पड़ाव साबित हुआ ।
इस वर्ष उनकी वक्त,खानदान और काजल जैसी सुपरहिट फिल्में प्रदर्शित हुयी।
बी.आर .चोपड़ा की फिल्म वक्त में रवि के संगीत का एक अलग अंदाज देखने को मिला।
फिल्म में अभिनेता बलराज साहनी पर फिल्माया यह कव्वाली ..ऐ मेरी जोहरा जबीं तुझे मालूम नहीं. सिने दर्शक आज भी नही भूल पाये है।
फिल्म ..काजल.. रवि के संगीत निर्देशन में गायिका आशा भोंसले की आवाज में अभिनेत्री मीना कुमारी पर फिल्माया यह गीत .मेरे भइया मेरे चंदा मेरे अनमोल रतन.. आज भी राखी के मौके पर सुनाई दे जाता है।

सत्तर के दशक में पाश्चात्य गीत-संगीत की चमक से निर्माता निर्देशक अपने आप को नहीं बचा सके और धीरे-धीरे निर्देशकों ने रवि की ओर से अपना मुख मोड़ लिया।
वर्ष 1982 में प्रदर्शित फिल्म .निकाह .. के जरिये रवि ने एक बार फिर से फिल्म इंडस्ट्री में वापसी की कोशिश की लेकिन उन्हें कोई खास कामयाबी नहीं मिली।
सलमा आगा की आवाज में उनके संगीत निर्देशन में रचा बसा यह गीत ..दिल के अरमा आंसुओं में बह गये.. श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुए।

अस्सी के दशक में हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में अपनी उपेक्षा देखकर रवि ने मुख मोड़ लिया।
बाद में मलयालम फिल्मों के सुप्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक हरिहरन के कहने पर रवि ने मलयालम फिल्मों के लिये संगीत देने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया।
वर्ष 1986 में प्रदर्शित मलयालम फिल्म ..पंचगनी.. से बतौर संगीतकार रवि ने अपने सिने करियर की दूसरी पारी शुरू कर दी ।

रवि अपने करियर में दो बार फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किये गये।
सबसे पहले उन्हें वर्ष 1961 में फिल्म घराना ..के सुपरहिट संगीत के लिये फिल्म फेयर पुरस्कार दिया गया था।
इसके बाद वर्ष 1965 में फिल्म ..खानदान ..के लिये भी उन्हें फिल्म फेयर पुरस्कार दिया गया ।
रवि ने अपने चार दशक लंबे सिने करियर में लगभग 200 फिल्मी और गैर फिल्मों के लिये संगीत दिया है।
उन्होंने हिन्दी के अलावा मलयालम,पंजाबी, गुजराती,तेलगु, कन्नड़ फिल्मों के लिये भी संगीत दिया है।
अपनी मधुर धुनों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने वाले रवि 07 मार्च 2012 को इस दुनिया को अलविदा कह गये।

 

वन वर्ल्ड : टुगेदर एट होम

'वन वर्ल्ड : टुगेदर एट होम' में शामिल होंगे शाहरुख, प्रियंका

जिनेवा/नयी दिल्ली 07 अप्रैल (वार्ता) कोरोना वायरस 'कोविड 19' से लड़ाई के लिए वैश्विक स्तर पर फंड जुटाने के उद्देश्य से 18 अप्रैल को एक विशेष प्रसारण 'वन वर्ल्ड : टुगेदर एट होम' का आयोजन किया जा रहा है जिसमें लेडी गागा, शाहरुख खान और प्रियंका चोपड़ा समेत दुनिया के 25 जाने माने सेलिब्रिटी एक साथ दिखेंगे।

कोरोना

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक करेगी अमिताभ की ‘फैमिली’

मुंबई 07 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव को लेकर जागरूकता फैलाने के लिये फिल्म इंडस्ट्री के कई सितारो के साथ मिलकर शाॅर्ट फिल्म फैमिली बनायी है।

अक्षय

अक्षय के साथ ‘मुस्कुराएगा इंडिया’

मुंबई 07 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार अक्षय कुमार कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में लोगों का मनोबल बढ़ाने के लिये म्यूजिक वीडियो ‘मुस्कुराएगा इंडिया’ लेकर आए हैं।

सारा

सारा ने भोर भयो पनघट पे किया कत्थक डांस

मुंबई 07 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री सारा अली खान ने जीनत अमान अभिनीत फिल्म सत्यम शिवम सुंदरम के एक सुपरहिट गाने ‘भोर भयो पनघट पे’ कत्थक डांस किया है, जो लोगों को बेहद पसंद आ रहा है।

एक

एक लाख मजदूरों के परिवार की मदद को आगे आये अमिताभ

मुंबई 06 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने ऑल इंडिया फिल्म एंप्लॉइज कन्फेडरेशन से जुड़े एक लाख दिहाड़ी मजदूरों के परिवार की मदद करने का एलान किया है।

प्रियंका

प्रियंका ने प्रधानंत्री मोदी के प्रति जताया आभार

मुंबई 06 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने पीएम केयर फंड में योगदान देने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वागत किये जाने पर उनका आभार जताया है।

बॉलीवुड

बॉलीवुड के पहले रियल डांसिग स्टार हैं जीतेन्द्र

..जन्मदिन 07 अप्रैल ..
मुंबई 06 अप्रैल (वार्ता) मुंबई के गोरेगांव में लड़कों का एक समूह अक्सर फिल्मों का पहला शो देखा करता था।

कोरोना

कोरोना के खिलाफ जंग में अर्जुन ने दिया डोनेशन

मुबई 06 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर ने कोरोना वायरस के विरूद्ध चल रही जंग में पीएम-केयर्स फंड में डोनेशन दिया है।

सनी-बॉबी

सनी-बॉबी बनने वाले थे करण-अर्जुन

मुंबई 05 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल और उनके भाई बॉबी देओल सुपरहिट फिल्म करण-अर्जुन में काम करने वाले थे लेकिन सनी देओल के मना करने पर बात नहीं बन सकी।

द

द बर्निंग ट्रेन के रीमेक में काम करेंगे ऋतिक रोशन!

मुंबई 05 अप्रैल (वार्ता) बॉलीवुड के माचो मैन ऋतिक रौशन अस्सी के दशक में बनी 'द बर्निंग ट्रेन' के रीमेक में काम करते नजर आ सकते हैं।

दिलकश अदाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया नंदा ने

दिलकश अदाओं से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया नंदा ने

..पुण्यतिथि 25 मार्च के अवसर पर ..
मुम्बई 25 मार्च (वार्ता)बॉलीवुड में अपनी दिलकश अदाओं से अभिनेत्री नंदा ने लगभग तीन दशक तक दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया लेकिन बहुत कम लोगो को पता होगा कि वह फिल्म अभिनेत्री न बनकर सेना में काम करना चाहती थीं ।

दिलकश आवाज से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रही है अलका याज्ञनिक

दिलकश आवाज से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रही है अलका याज्ञनिक

.. जन्मदिन 20 मार्च के अवसर पर पर ..
मुंबई 19 मार्च (वार्ता) आकाशवाणी कोलकाता से अपने करियर की शुरूआत करके शोहरत की बुलंदियों तक पहुंचने वाली बॉलीवुड की सुप्रसिद्ध पार्श्वगायिका अलका याज्ञनिक अपने गानों से आज भी श्रोताओं के दिलों पर राज कर रही हैं।

image