Tuesday, Oct 27 2020 | Time 19:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मध्यप्रदेश में कोरोना के 514 नए मामले, सक्रिय मामले गिरकर 10 हजार के पास आए
  • उप्र के डीजीपी ने दिए बारावफात पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के दिये निर्देश
  • झारखंड : ऑनलाइन पाठ्यक्रम के उद्देश्य से ‘जोहार पाठशाला’ यूट्यूब चैनल का ट्रायल
  • बिहार में नीतीश के नेतृत्व में तीन चौथाई बहुमत से बनेगी राजग की सरकार : जावड़ेकर
  • उद्योगों, किसानों को सुचारू रूप से बिजली की आपूर्ति : देसाई
  • जनता विकास को वोट करेगी, विनाश को नहीं : दीपक प्रकाश
  • परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी उत्तर पुस्तिका लेकर फरार, मामला दर्ज
  • दिल्ली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी
  • दिल्ली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी
  • सांसद दुग्गल को काले झंडे दिखाने जा रहे किसानों को पुलिस ने रोका
  • वाहन चोर गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार, 38 मोटरसाईकल, एक मिनी ट्रक बरामद
  • धान केन्द्रों पर कम खरीद पाये जाने पर केन्द्र प्रभारियों को कठोर चेतावनी
  • हरियाणा राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सिफारिशों को लागू करने वाला पहला राज्य बना
  • कोरोना मृत्यु दर में लगातार गिरावट जारी: स्वास्थ्य मंत्रालय
  • उप्र के प्रमुख नगरों में आज का तापमान इस प्रकार रहा
राज्य » अन्य राज्य


आंध्र में प्रसिद्ध मंदिर का रथ आग में जलकर खाक

आंध्र में प्रसिद्ध मंदिर का रथ आग में जलकर खाक

विजयवाडा, 06 सितंबर (वार्ता) आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के अंतरवेदी गांव में स्थित प्रसिद्ध श्रीलक्ष्मीनरसिम्हा स्वामी मंदिर के रथ में रविवार तड़के आग लगने से रथ बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

साठ साल पुराने इस पवित्र रथ को मंदिर के सामने एक शेड में पार्क किया गया था। आज तड़के यह आग की लपटों में जलता हुआ पाया गया। रथ पूरी तरह से आग में नष्ट हो गया। ग्रामीणों ने बताया कि मंदिर परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे पिछले छह महीने से काम नहीं कर रहे हैं।

पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि इसमें किसी असामाजिक तत्वों ने आग लगायी या फिर दुर्घटनावश रथ में आग लगी। त्योहारों और अन्य शुभ अवसरों के दौरान रथ का उपयोग मंदिर के प्रदर्शन के दौरान भगवान की सवारी के लिए किया जाता था। मंदिर के रथ के जलने से राज्य भर में सदमे की लहरें दौर गयी हैं क्योंकि इस मंदिर में त्योहारों के दौरान लाखों लोग यहां आते थे।

घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राज्य के बंदोबस्ती मंत्री वेल्लमपल्ली श्रीनिवास राव ने इस घटना की व्यापक जांच के आदेश दिए और बंदोबस्ती विभाग के अतिरिक्त आयुक्त रामचंद्र मोहन को जांच अधिकारी नियुक्त किया है।

संजय जितेन्द्र

जारी.वार्ता

image