Wednesday, Jul 17 2019 | Time 18:23 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दस घंटों के ऑपरेशन के बाद मैकेनिक के दोनों कटे पैर जोड़े
  • नेमार फाइव स्पर्धा में हंगरी, स्लोवाकिया बने विजेता
  • पहले दिन किआ सेल्टॉस की रिकार्ड बुकिंग
  • केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने एनआईडी संशोधन विधेयक 2014 को दी मंजूरी
  • एनआईए को विदेश में भी जांच का अधिकार, कानून का दुरूपयोग नहीं: अमित शाह
  • 2019-20 के लिए विभिन्न मंत्रालयों एवं विभागों की अनुदान माँगे (गिलोटीन) तथा उनसे संबंधित विनियोग विधेयक लोकसभा में पारित
  • प्रणव सिंह चैम्पियन को भाजपा ने किया पार्टी से निष्कासित
  • ईपेलेटर की ईजमायट्रिप से करार
  • विश्वास मत में हिस्सा लेने या नहीं लेने का फैसला अभी नहीं:बसपा विधायक
  • इंज़माम ने छोड़ा पाकिस्तान बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता का पद
  • इंज़माम ने छोड़ा पाकिस्तान बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता का पद
  • रात्रि भोज के साथ हिमाचल सरकार की आचार्य देवव्रत को विदाई
  • लखनऊ राजभवन में स्वामी विवेकानन्द की मूर्ति का अनावरण
States » Punjab Haryana Himachal


करतारपुर गलियारे पर सौहार्द्रपूर्ण माहौल में हुई बैठक

करतारपुर गलियारे पर सौहार्द्रपूर्ण माहौल में हुई बैठक

अटारी (अमृतसर), 14 मार्च (वार्ता) पाकिस्तान के नोरवाल स्थित गुरुद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शन करने जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए बनाये जा रहे करतारपुर गलियारे की औपचारिकताओं और समझौते के मसौदे पर गुरुवार को भारत और पाकिस्तान के अधिकारियों ने यहां सौहार्द्रपूर्ण माहौल में विचार-विमर्श किया।
बैठक के बाद जारी संयुक्त वक्तव्य में कहा गया है कि दोनों देशों के अधिकारी सौहार्द्रपूर्ण माहौल में मिले। भारत की तरफ से बैठक में प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव एस. सी. एल. दास ने की जबकि पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई विदेश मंत्रालय के महानिदेशक डाॅ मोहम्मद फैजल ने की।
पुलवामा में 14 फरवरी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हमले में 40 से अधिक जवानों के शहीद होने और उसके बाद भारत की ओर से पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकवादी शिविर पर हवाई कार्रवाई से दोनों देशों के बीच रिश्ते बहुत तल्ख हो गये थे। इसके बाद दोनों देशों के बीच किसी मामले पर यह पहली बैठक हुई।
बयान में कहा गया है कि प्रस्तावित समझौते के विभिन्न पहलुओं और प्रावधानों पर विस्तृत और रचनात्मक विचार-विमर्श हुआ। दोनों पक्ष करतारपुर साहिब गलियारे के काम को तेजी से पूरा करने पर सहमत हुए।
दोनों तरफ से तकनीकी विशेज्ञयों ने भी प्रस्तावित गलियारे की एकरूपता रखने तथा उसे जुड़े अन्य मुद्दों पर विचार-विमर्श किया। दोनों पक्ष अगली बैठक दो अप्रैल को वाघा में करने पर सहमत हुए। इससे पहले 19 मार्च को तकनीकी विशेज्ञयों की बैठक होगी।
मिश्रा.उनियाल.श्रवण
वार्ता

image