Tuesday, Jun 28 2022 | Time 05:10 Hrs(IST)
image
राज्य » राजस्थान


वन्यजीवों की गणना में 42 गोडावण नजर आए

जैसलमेर 19 मई (वार्ता) राजस्थान के जैसलमेर में गत 16 मई को हुई वन्यजीवों की गणना में सर्वाधिक 42 गोडावण नजर आना सुखद संकेत माना जा रहा है।
कोरोना काल के दो वर्षो बाद पहली बार यह वन्यजीवों की गणना हुई है। इस दौरान जिले के डेजर्ट नेशनल पार्क में गोडावणों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। आम तौर पर वाटर हॉल पद्धति से होने वाली वन्यजीवों की गणना में इतने गोडावण नजर नहीं आते हैं। हालांकि पिछले छह सालो से वाईल्ड लाईफ इंस्टीट्यूट देहरादून द्वारा वैज्ञानिक पदति से गणना नही करवाई गई हैं लेकिन वॉटर होल की इस गणना में गोडावण के कुनबे के बढ़ने के शुभ समाचार मिले हैं और वर्तमान में गोडावण की ब्रिडिंग सीजन भी चल रहा हैं जिसमें भी कई खुष खबरी सामने आ सकती हैं।
डेजर्ट नेशनल पार्क के डिप्टी कनजरवेटर फोरेस्ट कपिल चन्द्रावल ने बताया कि कोरोना कॉल के बाद वॉटर हॉल की गणना इस बार वैशाखी पूर्णिमा को की गई थी जो 24 घंटे चली थी। इस बार के सबसे ज्यादा चिंकारा हिरण पाये गए और सबसे कम जंगली बिल्ली नजर आई हैं लेकिन गोडावण इस बार अलग अलग क्षेत्रो में 42 नजर और इससे पूर्व 2018 की गणना में 13 एवं 2019 में 19 गोडावण नजर आये। इससे साफ जाहिर हो रहा हैं कि गोडावण संरक्षण में जो कार्य हो रहे हैं वे सफल रह रहे हैं।
उन्होने बताया कि वह समय समय पर विचरण एरिया बदलता रहता है और ग्रामीण क्षेत्रों में मिलने देसी फल एवं वनस्पति आदि खाने से उसकी पानी की पूर्ति हो जाती है। ऐसे में वाटर हॉल पद्धति गोडावण की गणना के लिए सटीक नहीं मानी जाती है। इसके लिए वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ओर से विशेष तरीके से गणना की जाती है।
उन्होने बताया कि सहायक वन संरक्षक पी.बाला मुरुगन के दिशा निर्देशो में आयोजित हुई गणना में डेजर्ट नेशनल पार्क इलाके में जैसलमेर में 15, म्याजलार में 6, पोकरण में 15, बाड़मेर में 7 वॉटर पोईन्ट चिन्हित किये गए, प्रत्येक पोईन्ट पर बोर्डर होम गार्ड का जवान, वन विभाग में टेªंड स्टॉफ, ई.टी.एफ का जवान एवं स्थानीय ग्रामीण का एक दल घटित कर इस कार्य का संपादित किया गया जो लगातार जलीय बिन्दू पर पानी पीने के लिए आने वाले वन्य जीव की गणना कर निर्धारित प्रपत्र में अन्कित किया। इसके अलावा जिले के समस्य जल स़्ोतो पर यह गणना की गई।
भाटिया रामसिंह
वार्ता
More News
अग्निपथ योजना के नाम पर युवाओं के साथ खिलवाड: जूली

अग्निपथ योजना के नाम पर युवाओं के साथ खिलवाड: जूली

27 Jun 2022 | 11:12 PM

अलवर 27 जून (वार्ता) राजस्थान के केबिनेट मंत्री टीकाराम जूली ने केन्द्र सरकार की अग्निपथ योजना को युवाओं के साथ कुठाराघात बताते हुए कहा है कि यह युवाओं को अग्निवीर नहीं बल्कि अग्नि में झोंक रहे हैं।

see more..
युवा विरोधी अग्निपथ योजना को वापस ले केन्द्र सरकार: पायलट

युवा विरोधी अग्निपथ योजना को वापस ले केन्द्र सरकार: पायलट

27 Jun 2022 | 11:12 PM

टोंक, 27 जून (वार्ता) राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार भारतीय सेना की भर्ती प्रक्रिया में परिवर्तन करके जो ‘अग्निपथ‘ योजना लेकर आयी है, उसे भी काले कृषि कानूनों की तरह वापस लेना पडेगा।

see more..
image